नवजीवन बुलेटिन: NRC की फाइनल लिस्ट से 19 लाख से ज्यादा लोग बाहर और पाकिस्तान में बस हादसे में एक ही परिवार के 24 लोगों की मौत

NRC की फाइनल लिस्ट में 3 करोड़ 11 लाख 21 हजार लोगों को जगह मिली है और 19,06,657 लोगों को बाहर कर दिया गया है और पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में एक यात्री बस के एक नाले में गिरने से कम से कम 24 लोगों की मौत हो गई। 4 बड़ी खबरें।

user

नवजीवन डेस्क

गृह मंत्रालय ने असम NRC की अंतिम सूची जारी की है जिसमें 19 लाख से ज्यादा लोगों को बहार कर दिया गया है। सुरक्षा-व्यवस्था के लिए 51 कंपनियां तैनात की गई हैं। एनआरसी के स्टेट कॉर्डिनेटर प्रतीक हजेला ने बताया कि 3 करोड़ 11 लाख 21 हजार लोगों का NRC की फाइनल लिस्ट में जगह मिली और 19,06,657 लोगों को बाहर कर दिया गया।

पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में एक यात्री बस के एक नाले में गिरने से कम से कम 24 लोगों की मौत हो गई। मीडिया ने शनिवार को यह जानकारी दी। न्यूज इंटरनेशनल की रिपोर्ट के अनुसार, महिलाओं और बच्चों समेत 35 यात्रियों को ले जा रही बस अपर कोहिस्तान जिला में एक नाले में गिर गई। पता चला है कि सभी यात्री एक ही परिवार से थे और एक समारोह में शामिल होने जा रहे थे। घटना के कारणों का पता लगाया जा रहा है।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने अर्थव्यवस्था की बिगड़ी सेहत को लेकर मोदी सरकार पर हमला बोला है। प्रियंका ने ट्वीट कर बीजेपी से पूछा, “अब तो साफ करो कि अर्थव्यवस्था को नष्ट कर देने की ये किसकी करतूत है?” उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि, “जीडीपी विकास दर से साफ है कि अच्छे दिन का भोंपू बजाने वाली बीजेपी सरकार ने अर्थव्यवस्था की हालत पंचर कर दी है। न जीडीपी ग्रोथ है न रुपए की मजबूती। रोजगार गायब हैं।

बच्चा चोरी के शक में भीड़ द्वारा हिंसा की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। अब उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में बच्चा चोर की अफवाह के बाद भड़के हुए लोगों को शांत कराने के लिए पहुंची पुलिस के टीम को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा गया। मामला इतना बढ़ गया कि इलाके के डीएम ने घटनास्थल पर पहुंचकर साथी सिपाहियों को अस्पताल भेजा।

जानकारी के मुताबिक घटना सेहरामऊ उत्तरी थाना क्षेत्र के गांव सोंधा इलाके की है, जहां बच्चा चोर होने की सूचना पाकर पहुंचे पीआरबी कांस्टेबल अरविंद सिंह राणा और प्रेमपाल की गांव वालों ने जमकर पिटाई की। घटना की सूचना पाते ही सुल्तानपुर चौकी इंचार्ज महेश कांस्टेबल रामप्रकाश, दिनेश सिंह और कांस्टेबल सचिन जब वहां पहुंचे तो गुसाई भीड़ ने लाठी-डंडों से पीटकर उन्हें घायल कर दिया।

लोकप्रिय