मृणाल की बैठक- Ep 74: विज्ञापनों के बजाए अपने काम से जनता तक अपनी पहुंच बनाएं राजनेता

मृणाल की बैठक में आज बात होगी पुनर्गठित राज्यों जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को लेकर। साथ ही राजनैतिक विज्ञापनों को लेकर फेसबुक-वाट्सऐप के बीच चल रहे शीत युद्ध और देश के मुख्य उत्पादक व्यवसायों में आई गिरावट के खतरों का विश्लेषण कर रही हैं मृणाल पाण्डेय।

नवजीवन डेस्क

मृणाल की बैठक के ताजा अंक में आज बात की जाएगी दो पुनर्गठित राज्यों जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को लेकर। पुनर्गठन के बाद दोनों राज्यों में जश्ने आजादी का जो माहौल बनना चाहिए था वो बन नहीं पाया। साथ ही चर्चा होगी राजनैतिक विज्ञापनों को लेकर फेसबुक और वाट्सऐप के बीच चल रहे शीत युद्ध पर। वाट्सऐप 22 नवंबर से राजनैतिक दलों के विज्ञापन बंद कर देगा।

वाट्सऐप प्रमुख का कहना है कि राजनेताओं को विज्ञापनों के बजाए अपने कामों से जनता के बीच अपनी मौजूदगी दर्ज करानी चाहिए। अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में माइक्रोब्लॉगिगं साईट्स का बड़ा योगदान था। बड़े देशों की राजनीति में हैकिंग से वोटरों के रूचि-रुझान जाने जाते हैं।

लोकप्रिय