मृणाल की बैठक- एपिसोड 53: आर्थिक मंदी की आहट के बीच बढ़ती बेरोजगारी और ज़ोमैटो पर बहस के बीच टीवी पर तमाशा

मृणाल की बैठक के इस एपिसोड में चर्चा देश पर मंडरा रहे आर्थिक मंदी के बादलों के बीच बढ़ती बेरोजगारी पर। आंकड़े बता रहे हैं कि रोजगार या नौकरियां उपलब्ध नहीं हैं। सरकार ने रोजगार का वादा किया था, लेकिन वह पूरा नहीं हुआ और युवाओं में हताशा बढ़ती जा रही है

नवजीवन डेस्क

मृणाल की बैठक के इस एपिसोड में चर्चा देश पर मंडरा रहे आर्थिक मंदी के बादलों के बीच बढ़ती बेरोजगारी पर। श्रम ब्यूरो के आंकड़े संकेत दे रहे हैं कि काम लायक युवाओं को रोजगार या नौकरियां उपलब्ध नहीं हैं। हालांकि मौजूदा सरकार ने अपने पिछले शासन में भी और इस बार के चुनाव से पहले भी रोजगार का वादा किया था। लेकिन वह वादा पूरा नहीं हुआ और युवाओं में हताशा बढ़ती जा रही है, जो विस्फोटक हो सकती है।

इसके अलावा ज़ोमेटो विवाद पर चर्चा के दौरान एक टीवी कार्यक्रम में एक दक्षिणपंथी वक्ता द्वारा किए गए तमाशे की बात। इसकी जितनी निंदा की जाए कम है। साथ ही पर्यावरण को लेकर एक नई चिंता सामने आई है, जिसके मुताबिक हमेशा ठंडा रहने वाला ग्रीनलैंड गर्मी से बेहाल है और वहां की 58 फीसदी बर्फ सिर्फ दो दिनों में पिघल गई है।

लोकप्रिय