नवजीवन बुलेटिन: NIA कोर्ट का बड़ा फैसला, ISIS के 15 आतंकियों को सुनाई सजा और कंगना की मुश्किलें बढ़ी!

NIA की अदालत ने बड़ा फैसला देते हुए आतंकी संगठन आईएसआईएस से जुड़े 15 आतंकियों को सजा सुनाई है और मुंबई की बांद्रा कोर्ट ने बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ सांप्रदायिक नफरत फैलाने के आरोप में एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है।

user

नवजीवन डेस्क

नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी की अदालत ने बड़ा फैसला देते हुए आतंकी संगठन आईएसआईएस से जुड़े 15 आतंकियों को सजा सुनाई है। दिल्ली स्थित एनआईए की विशेष अदालत ने पांच साल से लेकर 10 साल तक की सजा इन लोगों को सुनाई है। आपको बता दें, ये मामला 2015 का है। सभी को आतंक फैलाने की साजिश रचने का दोषी पाया गया था। अदालत ने इन सभी दोषियों को गैरकानूनी गतिविधि(रोकथाम) अधिनियम, आपराधिक साजिश, विस्फोटक अधिनियम के तहत सजा सुनाई है। एनआईए ने फैसला आने के बाद कहा है कि ये अपनी तरह का पहला केस है, जिसमें सोशल मीडिया और इंटरनेट के जरिए से युवाओं को जोड़कर देश में आतंकी गतिविधि को फैलाने की साजिश रची गई और दोष साबित हुआ।

मुंबई की बांद्रा कोर्ट ने बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ सांप्रदायिक नफरत फैलाने के आरोप में एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है। अदालत में एक याचिका दायर की गई थी, जिसमें कंगना के ट्वीट को भड़काऊ बताते हुए उनपर एफआईआर दर्ज करने की मांग की गई थी। बांद्रा कोर्ट में इस याचिका को मुन्ना वराली और साहिल अशरफ सैयद ने दायर की है।इस याचिका में कहा गया कि कंगना अपने ट्वीट के जरिए बॉलीवुड में हिंदु-मुस्लिम समुदाय में झगड़ा कराने की कोशिश करती हैं। याचिकाकर्ताओं का कहना है कि कंगना के बयानों और उनके ट्वीट के जरिए दोनों समुदाय के बीच नफरत बढ़ती है।

जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग के लारनू इलाके में शनिवार सुबह से आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ जारी है। पुलिस और सुरक्षाबल ऑपरेशन को अंजाम दे रहे हैं। बताया जा रहा है कि मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को ढेर कर दिया है। वहीं, शुक्रवार को बडगाम में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई थी। ये एनकाउंटर बडगाम जिले के नागम चाडूरा इलाके में हुआ था।

केदारनाथ में बने हेलीपैड पर शनिवार की सुबह नौ बजे वायु सेना के मालवाहक हेलीकॉप्टर चिनूक उतरा। इस दौरान प्रशासन के अधिकारी मौजूद रहे। ऐसा पहली बार है जब चिनूक केदारनाथ धाम में उतरा हो। चिनूक केदारनाथ में क्रैश हुए एमआई 17 के मलबे को लेने के लिए पहुंचा था। यहां से यह मलबा दिल्ली ले जाया गया। आपतो बता दें, एमआई 17 केदारनाथ में 2018 में क्रैश हुआ था। बता दें कि भारतीय सेना के चिनूक हेलीकॉप्टर से केदारनाथ पुनर्निर्माण के लिए भारी मशीनों को भी धाम में पहुंचाया जाना है। केदारनाथ पुनर्निर्माण के दूसरे चरण के कार्यों के लिए चिनूक हेलीकॉप्टर से पोकलैंड, जेसीबी, डंपर व अन्य भारी मशीनें केदारनाथ पहुंचाई जाएंगी।

लोकप्रिय
next