नवजीवन बुलेटिन: वाराणसी में बुनकरों की बदहाली पर प्रियंका ने पीएम को घेरा और पावर प्लांट में विस्फोट, 6 की मौत

पीएम के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में बुनकरों की हालत को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने पीएम और सीएम योगी पर निशाना साधा है और तमिलनाडु के नवेली लिग्नाइट कॉर्पोरेशन के बॉयलर में धमाका होने से 6 लोगों की मौत हो गई है जबकि 17 लोगों के घायल होने की खबर है।

user

नवजीवन डेस्क

पीएम के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में बुनकरों की हालत बदहाल है। कभी बुनकर यहां की शान थे लेकिन बीते कुछ महीनों से इनकी स्थिति बुरी हो गई है। फिर कोरोना और लॉकडाउन ने इनकी कमर तोड़ दी है। बुनकरों की ऐसी हालत को लेकर कांग्रेस महासचवि प्रियंका गांधी ने पीएम मोदी और सीएम योगी पर निशाना साधा है। प्रियंका गांधी ने एक खबर का हवाला देते हुए ट्वीट करते हुए सरकार पर सवाल खड़े किए हैं। प्रियंका ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा सीएम योगी आदित्यनाथ से हवा-हवाई बातें नहीं, बल्कि ठोस आर्थिक पैकेज देने की अपील की। प्रियंका ने ट्विट कर लिखा, 'यूपी सीएम ने पीएम साहब को बुलाकर एक आयोजन कर बताया कि छोटे और मझोले उद्योगों में लाखों रोजगार मिल रहे हैं। लेकिन हकीकत देखिए। पीएम के संसदीय क्षेत्र के बुनकर जो वाराणसी की शान हैं, आज गहने और घर गिरवी रखकर गुजारा करने को मजबूर हैं।' उन्होंने कहा, 'लॉकडाउन के दौरान उनका पूरा काम ठप हो गया। छोटे व्यवसायियों और कारीगरों की हालत बहुत खराब है। हवाई प्रचार नहीं, आर्थिक मदद का ठोस पैकेज ही इन्हें इस तंगहाली से निकाल सकता है।

तमिलनाडु के नेवेली में बड़ा हादसा हुआ है। खबरों के मुताबिक नवेली लिग्नाइट कॉर्पोरेशन के बॉयलर में धमाका हुआ है। इस कारण 6 लोगों की मौत हो गई है जबकि 17 लोगों के घायल होने की खबर सामने आई है। आशंका जताई जा रही है कि घायलों की संख्या में वृद्धि हो सकती है। घटना की सूचना पाकर मौके पर फायर ब्रिगेड की टीम पहुंच चुकी है जो हालात पर काबू पाने में जुटी हुई है। इस घटना की सूचना पाकर हालात का जायजा लेने के जिला प्रशासन की एक टीम घटनास्थल पर पहुंच चुकी है। बता दें कि इससे पहले 7 मई नेवेली पावर प्लांट के बॉयलर में धमाका देखने को मिला था। इस दौरान 84 मीटर ऊंचे बॉयलर में धमाका हुआ था। इस दौरान 5 लोगों की मौत हो गई थी।

दिल्ली की जनता से ज्यादा कोरोना के केस सामने आने के बाद ना डरने की अपील करने वाले सीएम केजरीवाल ने एक बार फिर प्रेस कॉन्फ्रेंस की। केजरीवाल ने कहा कि केंद्र सरकार की वेबसाइट के मुताबिक दिल्ली में 30 जून तक कोरोना के 1 लाख केस और लगभग 60,000 सक्रिय मामले होने का अनुमान था। दिल्ली में आज (1 जुलाई) कोरोना वायरस के सिर्फ 26,000 सक्रिय मामले हैं। अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा कि इस समय दिल्ली के अस्पतालों में कोरोना वायरस के 5,800 मरीज़ हैं। एक हफ्ता पहले 6,250 मरीज़ थे। दिल्ली में मरीज़ों की संख्या बढ़ने की बजाए कम होती जा रही है। अब तक दिल्ली में कोरोना के कुल 87,000 मामले आए हैं जिसमें से 58,000 मरीज़ ठीक हो गए। गौरतलब है कि दिल्ली में रिकॉर्ड केस सामने आने के बाद केजरीवाल ने दिल्ली वासियों को ना डरने की अपनी करते हुए कहा था कि ये केस ज्यादा टेस्टिंग के चलते सामने आ रहे हैं।

लोकप्रिय
next