नवजीवन बुलेटिन: नीति आयोग के CEO के 'बहुत ज्यादा लोकतंत्र' वाले बयान पर राहुल का कटाक्ष और SC ने सुनाया ये अहम फैसला

नीति आयोग के सीईओ के 'बहुत ज्यादा लोकतंत्र' वाले बयान पर राहुल गांधी ने कटाक्ष करते हुए कहा कि मोदी राज में रिफार्म का मतलब चोरी है और सुप्रीम कोर्ट ने एक अहम फैसला सुनाते हुए राज्यों से कहा है कि कोरोना मरीजों के घरों के बाहर कोई भी पोस्टर नहीं लगाया जाए।

user

नवजीवन डेस्क

नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत द्वारा बहुत ज्यादा लोकतंत्र के कारण सुधार (रिफार्म) करने में दिक्कत वाले बयान पर राहुल गांधी ने कटाक्ष किया है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा है कि मोदी राज में रिफार्म का मतलब चोरी है, इसीलए वे लोकतंत्र खत्म करना चाहते हैं। आपको बता दें, देश के लिए नीतियां निर्धारित करने वाले नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत को लगता है कि देश में “बहुत ज्यादा लोकतंत्र” होने के कारण कई क्षेत्रों में सुधार नहीं हो पा रहा है और अर्थव्यवस्था के मोर्चे पर चीन से से मुकाबला करना मुश्किल हो रहा है। एक पत्रिका द्वारा आयोजित एक वर्चुअल कार्यक्रम में अमिताभ कांत ने कहा कि केंद्र सरकार ने सभी क्षेत्रों में कड़े सुधार किए हैं, वह खनन हो, कोयला हो, कृषि हो या फिर श्रम हो। उनका कहना है कि अब सुधारों की अगली लहर राज्यों से होनी चाहिए।

सुप्रीम कोर्ट ने एक अहम फैसला सुनाते हुए राज्यों से कहा है कि कोरोना मरीजों के घरों के बाहर कोई भी पोस्टर नहीं लगाया जाए। कोर्ट का कहना है कि कोरोना मरीजों के घरों के बाहर, राज्य सरकार के अधिकारियों द्वारा उनकी पहचान को देखते हुए पोस्टर चिपकाए जाने की आवश्यकता नहीं है, जब तक कि एक सक्षम अधिकारी से कोई निर्देश न हो। आपको बता दें कि इससे पहले केंद्र सरकार ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा था कि होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों के घरों के बाहर से पोस्टर हटाए जाएं। कोर्ट ने केंद्र से कहा था कि मरीजों के मकान के बाहर एक बार पोस्टर लग जाने पर उनके साथ समाज में अछूतों जैसा व्यवहार हो रहा है। इसके जवाब में केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा था कि कोरोना मरीजों को लेकर ऐसी कोई भी मंशा नहीं है। सरकार ने कहा था कि लोगों की सुरक्षा के लिए ये कदम उठाए गए हैं।

जम्मू-कश्मीर के बारामुला के पाटन इलाके में एक बार फिर ग्रेनेड हमला हुआ है। जानकारी क् मुताबिक इस हमले में तीन नागरिक घायल हो गए हैं। घायलों को पाटन के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इससे पहले बुधवार तड़के पुलवामा में हुए एनकाउंटर दो आतंकी मारे गए थे। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में तीन आतंकियों को ढेर कर दिया। जानकारी के अनुसार, बुधवार तड़के पुलवामा के टिकन इलाके में यह मुठभेड़ चल रही है। सीआरपीएफ की 182वीं बटालियन और जम्मू-कश्मीर पुलिस मोर्चे पर डटी हुई है। सुरक्षाबलों ने बुधवार तड़के पुलवामा के टिकन गांव में मिले इनपुट के आधार पर सर्च ऑपरेशन चलाया था। इस दौरान आतंकियों की तरफ से गोलीबारी शुरू की। इस पर सुरक्षाबलों ने भी जवाबी फायरिंग की।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia