भारत में 6 साल में राजद्रोह के 326 केस दर्ज, सिर्फ 6 दोषी करार, BJP शासित इस राज्य में सबसे ज्यादा मामले दर्ज

गृह मंत्रालय के मुताबिक, 2014 से 2019 के बीच कुल राजद्रोह के कुल 326 केस रजिस्टर किये गए। इसमें से सबसे ज्यादा मामले असम (54 केस) में दर्ज हुए। कुल दर्ज मामलों में से 141 केसों में चार्जशीट दायर हुई है। वहीं सिर्फ छह लोगों को दोषी ठहराया जा सका है।

user

नवजीवन डेस्क

सुप्रीम कोर्ट ने एक ऐतिहासिक फैसले में देशद्रोह कानून (सेडिशन लॉ) पर रोकलगा दी है। सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को केंद्र और राज्य सरकारों से आग्रह किया कि जब तक केंद्र द्वारा कानून की समीक्षा पूरी नहीं हो जाती, तब तक देशद्रोह का कोई भी मामला दर्ज नहीं होगा। यह कानून भारतीय दंड संहिता की धारा 124 ए में निहित है।

इस बीच आज हम आपको इस वीडियो में अंग्रेजों के जमाने से चले आ रहे इस कानून के तहत दर्ज केसों के बारे में बताएंगे, साथ ही ये भी बताएंगे कि सबसे ज्यादा देशद्रोह के मामले किस राज्य में दर्ज हैं और उन केसों की क्या स्थिति है?

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia