#SpeakUpForWomenSafety: हाथरस मामले पर कांग्रेस शासित राज्य के सीएम और नेता बोले- पीड़ित को मिलना चाहिए न्याय

#SpeakUpForWomenSafety के तहत राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि यूपी के हाथरस में एक बिलखती मां को उसकी बेटी का चेहरा नहीं देखने दिया, पुलिस को रात के अंधेरे में परिजनों की अनुमति के बिना शव जलाने का कोई अधिकार नहीं है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

विनय कुमार

उत्तर प्रदेश के हाथरस समेत बीजेपी शासित राज्यों में महिलाओं के साथ हो रहे दुष्कर्म, छेड़छाड़ जैसी घटना को लेकर कांग्रेस ने एक बार मोदी सरकार को घेरा है। कांग्रेस ने महिला की सुरक्षा को लेकर अभियान चलाया है और साथ ही सरकार से सवाल भी किया है।

#SpeakUpForWomenSafety के तहत राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि यूपी के हाथरस में एक बिलखती मां को उसकी बेटी का चेहरा नहीं देखने दिया, पुलिस को रात के अंधेरे में परिजनों की अनुमति के बिना शव जलाने का कोई अधिकार नहीं है। हर सरकार का यह दायित्व बनता है कि पीड़ित को न्याय मिलना सुनिश्चित हो।

दमन ने कांग्रेस प्रेजिडेंट ने कहा कि बीजेपी का 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' नारा कहां है? हर रोज बहन-बेटियों पर अत्याचार हो रहे हैं। बहन-बेटियों की सुरक्षा के लिए कांग्रेस सड़क पर सरकार के खिलाफ लड़ाई लड़ेगी।

सोशल मीडिया वालंटियर ने कहा कि हमारी बहन-बेटियों के साथ दुर्व्यवहार किया जा रहा है। लेकिन भाजपा की गूंगी-बहरी सरकार कुछ बोलने को भी तैयार नहीं है। बल्कि सरकार की तरफ से ऐसे अपराधियों को संरक्षण दिया जाता है।

SM वालंटियर स्नेहा पाटिल ने कहा कि क्योंकि मैं एक लड़की हूँ पैदा होते ही मुझे यूं न ठुकराओ मेरी बनाई पहचान से यूं बेवजह न डरो मेरे शरीर के टुकड़े कर, उसे चीर कर मुझे जीने का हक़ न छीनो मेरे मुर्दा शरीर को रात के अंधेरे में यूं न जलाओ क्योंकि मैं एक लड़की हूं।

लोकप्रिय
next