नवजीवन बुलेटिन: सुशांत के पिता के वकील ने पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप और 24 घंटे में कोरोना से 768 लोगों की मौत

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के पिता के वकील और पूर्व एडिशनल सॉलिसीटर जनरल विकास सिंह ने मुंबई और बिहार पुलिस पर एफआईआर दर्ज न करने का आरोप लगाया है और पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना के 48513 नए मामले आए सामने, 768 लोगों की मौत हुई है।

user

नवजीवन डेस्क

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के पिता के वकील और पूर्व एडिशनल सॉलिसीटर जनरल विकास सिंह ने मुंबई पुलिस पर एफआईआर दर्ज न करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि पहले पटना पुलिस भी झिझक रही थी लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और मंत्री संजय झा ने जब उन्हें मामला समझाया तो उन्होंने एफआईआर दर्ज की। विकास सिंह ने कहा, ‘अब एफआईआर दर्ज हो चुकी है और परिवार सदमे में हैं। मुंबई पुलिस एफआईआर दर्ज नहीं कर रही है बल्कि वे उन्हें (सुशांत के परिवार) बड़े प्रोडक्शन हाउस के नाम देने और उन्हें इसमें शामिल करने को बोल रही है। यह अब एक अलग दिशा में जा रहा है।

सुशांत सिंह के पिता केके सिंह की ओर से पटना में एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती और उनके परिवार के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है। इस एफआईआर में उन्होंने रिया पर कई संगीन आरोप लगाए हैं। इस मामले को लेकर अब एसपी सिटी पटना विनय तिवारी का बयान सामने आया है। उन्होंने अपने बयान में कहा कि ''एफआईआर दर्ज हो चुकी है। इस मामले मां जांच जारी है और फिलहाल इसे लेकर कुछ भी कह पाना जल्दबाजी होगी। जांच की एक दिशा है और टीम उसकी दिशा में आगे बढ़ रही है। एफआईआर को पब्लिक कर दिया गया है उसमें के के सिंह द्वारा लगाए गए आरोपों पर जांच हो रही है।''

देश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 15 लाख के पार हो गया है। अब तक इस महामारी से 34193 लोगों की मौत हो चुकी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा बुधवार सुबह जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 48513 नए मामले सामने आए हैं। इसी के साथ देश में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 15, 31, 669 हो गई है।बीते 24 घंटे में 768 लोगों की मौत हुई है। वहीं कोरोना से मणिपुर में पहली मौत हुई है। मणिपुर में कोरोना से 56 साल के शख्स ने RIMS में दम तोड़ा। देश में कोरोना से स्वस्थ हुए लोगों की संख्या बढ़कर 9,88,770 हो गई है। जिससे देश में कोविड-19 से स्वस्थ होने की दर अब 65 प्रतिशत से ज्यादा हो गई है।

अत्‍याधुनिक मिसाइलों और घातक बमों से लैस भारतीय वायुसेना के सबसे घातक फाइटर जेट राफेल 29 जुलाई यानी आज अंबाला पहुंचने वाला है। सुरक्षा को ध्‍यान में रखते हुए एयरफोर्स स्टेशन के आसपास इलाकों में धारा 144 लागू कर दी गई है। फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी पर भी पाबंदी लगा दी गई है। एक हफ्ते के अंदर ही इन विमानों को किसी भी मिशन के लिए तैयार कर लिया जाएगा। इन फाइटर जेट को उड़ाने के लिए कुल 12 पायलटों को ट्रेनिंग दी गई है, जो इसे फ्रांस से लेकर आ रहे हैं। भारतीय वायुसेना ने इन लड़ाकू विमानों के स्वागत की पूरी तैयारी कर ली है। वायुसेना के फाइटर पायलट 7000 किलोमीटर की हवाई दूरी तय करके बुधवार को अंबाला एयरबेस पहुंचेंगे। इस मौके पर एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ भी मौजूद रहेंगे।

लोकप्रिय
next