वीडियो: लोकतंत्र-संविधान को किया जा रहा दरकिनार, आज खुद को असुरक्षित महसूस कर रहा देश का नागरिक -सोनिया गांधी

सोनिया गांधी ने कहा कि हमारे नेताओं ने सूझ बूझ के साथ भारत के निर्माण की नींव रखी। जिसपर चलकर हमने एक सशक्त भारत खड़ा किया। जो लोग आजादी के आंदोलन में भागीदार नहीं थे वो इसकी कीमत नहीं समझ सकते।

user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस आज अपना 137वां स्थापना दिवस मना रही है। इस मौके पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी देश के नाम एक वीडियो संदेश जारी किया है। अपने इस वीडियो संदेश में सोनिया गांधी ने कहा कि कांग्रेस सिर्फ राजनीतिक पार्टी का ही नाम नहीं है बल्कि एक आंदोलन का भी है। कांग्रेस की स्थापना किन परिस्थियों में हुई ये सब जानते हैं। आजादी के आंदोलन में कांग्रेस और पार्टी के नेताओं ने संघर्ष किया। सोनिया गांधी ने कहा कि जेलों में कठोर यातनाएं झेली और कइयों ने अपने प्राणों का बलिदान दिया। तब कहीं जाकर हमें आजादी मिली।

सोनिया गांधी ने आगे कहा कि आजादी के बाद हमें जो भारत मिला उसकी कल्पना नहीं की जा सकती है। हमारे नेताओं ने सूझ बूझ के साथ भारत के निर्माण की नींव रखी। जिसपर चलकर हमने एक सशक्त भारत खड़ा किया। एक ऐसा भारत जिसमें सभी देशवासियों के अधिकारों और हितों का ध्यान रखा गया। जिन लोगों ने आजादी के आंदोलन में भागीदारी नहीं की वो इसकी कीमत नहीं समझ सकते। आज भारत के उस मजबूत बुनियाद को कमजोर करने की हर संभव कोशिश की जा रही है। इतिहास को झुठलाया जा रहा है। हमारी गंगा-जमुनी संस्कृति को मिटाने की कोशिश हो रही है। देश का आम नागरिक असुरक्षित और भयभीत महसूस कर रहा है। लोकतंत्र व संविधान को दरकिनार किया जा रहा है, और तानाशाही की जा रही है। ऐसे में कांग्रेस चुप नहीं रह सकती।

सोनिया गांधी ने कहा देश के विरासत को कांग्रेस किसी को भी नष्ट करने की इजाजत नहीं देगी। आम जन मानस के लिए, लोकतंत्र की रक्षा के लिए, देश विरोधी, समाज विरोधी, साजिशों के खिलाफ हर संघर्ष करेगी, हर कुर्बानी देगी। आज कांग्रेस के एक एक जन को कांग्रेस को मजबूत बनाने का संकल्प लेना होगा। सोनिया गांधी ने आखिर में देशवासियों को कांग्रेस स्थापना दिवस और नव वर्ष की शुभकामनाएं भी दी।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia