वीडियो: छत्तीसगढ़ में ‘राजीव गांधी किसान न्याय’ योजना की शुरुआत, सोनिया बोलीं- यह पूर्व PM को सच्ची श्रद्धांजलि

सोनिया गांधी ने कहा कि राजीव गांधी जी के दिल में अन्नदाता किसान, खासतौर पर महिला और आदिवासी किसानों के लिए बहुत प्यार था, इसलिए वह समय-समय पर इन सबके बीच में जाकर सीधे संवाद करते थे और तकलीफों की जानकारी लेते थे।

user

नवजीवन डेस्क

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर छत्तीसगढ़ सरकार की ‘राजीव गांधी किसान न्याय योजना’ का शुभारंभ किया और इस मौके पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि यह पहल पूर्व प्रधानमंत्री के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

वीडियो कांफ्रेंसिंग में कहा, ‘‘छत्तीसगढ़ सरकार, सीएम भूपेश बघेल और उनके सभी साथियों को इस बात की बधाई देती है कि उन्होंने राजीव गांधी जी की भावना के अनुरूप ‘राजीव गांधी किसान न्याय योजना’ बड़ा कदम उठाया है।” उन्होंने कहा कि ‘राजीव गांधी किसान न्याय योजना’ के जरिए छत्तीसगढ़ सरकार ने किसानों को सभी जरूरी संसाधन उपलब्ध करवाकर फसल उत्पादन में प्रोत्साहन देने जैसे कदम उठाकर सीधे उनके बैंक खातों में धनराशि भेजने की शुरुआत की है।

उन्होंने आगे कहा, “इस योजना के दूसरे चरण में भूमिहीन आदिवासी कृषि मजदूरों को भी शामिल करने की योजना है। ये एक बहुत अनोखा निर्णय है। इससे वो सब आत्मनिर्भर बनेंगे।” उन्होंने कहा, ‘‘ मेरा मानना है कि ऐसी कारगर योजनाओं को सही मायने में जमीनी स्तर पर लागू कर इनका लाभ जन-जन तक पहुंचाकर उनके जीवन में परिवर्तन लाना ही सही मायने में राजीव गांधी जी के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी।’’

सोनिया गांधी ने कहा कि राजीव गांधी के दिल में अन्नदाता किसान, खासतौर पर महिला और आदिवासी किसानों के लिए बहुत प्यार था, इसलिए वह समय-समय पर इन सबके बीच में जाकर सीधे संवाद करते थे और तकलीफों की जानकारी लेते थे। वे मानते थे कि किसान और खेती ही भारत के विकास की असली पूंजी है।

उन्होंने कहा कि किसानों को ज्यादा से ज्यादा ताकत देने, हर मुश्किल में राहत पहुंचाने, फसल की बेहतर कीमत दिलवाने और खेती को नई टेक्नोलॉजी के माध्यम से पूरे देश और दुनिया से जोड़ना ही राजीव जी की सोच और प्रतिबद्धता थी।

उन्होंने आगे कहा, “मैं इस क्रांतिकारी योजना के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी और उनके सभी साथियों के साथ ही प्रदेश के किसानों और कृषि मजदूर भाई-बहनों को बहुत बहुत शुभकामनाएं देती हूं और उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना करती हूं।”

लोकप्रिय