वीडियो: जानिए क्या होते हैं ग्लेशियर, जिसके टूटने से ऋषिगंगा-तपोवन में हुई तबाही और ये बनते कैसे हैं?

उत्तराखंड के चमोली जिले स्थित ऋषिगंगा-तपोवन में हुई तबाही ने केदारनाथ आपदा की याद दिला दी। नदियों ने रौद्र रूप धारण कर अपने रास्ते में आई हर चीज को कागज की तरह बहा दिया। वर्ष 2013 में आई उस महाआपदा के जख्म अभी पूरी तरह भरे भी नहीं कि उसी देवभूमि में एक बार फिर कुदरत का कहर देखने को मिला।

user

पवन नौटियाल @pawanautiyal

उत्तराखंड के चमोली जिले स्थित ऋषिगंगा-तपोवन में हुई तबाही ने केदारनाथ आपदा की याद दिला दी। नदियों ने रौद्र रूप धारण कर अपने रास्ते में आई हर चीज को कागज की तरह बहा दिया। वर्ष 2013 में आई उस महाआपदा के जख्म अभी पूरी तरह भरे भी नहीं कि उसी देवभूमि में एक बार फिर कुदरत का कहर देखने को मिला।

रविवार सुबह उत्तराखंड के चमोली जिले में ग्लेशियर टूटकर धौली नदी में गिरने से बाढ़ जैसे हालात उत्पन्न हो गए। यहां के तपोवन इलाके के रेनी गांव में हिमस्खलन से धौली नदी का जल स्तर अचानक बढ़ गया। हमारी तरह आपके भी मन में सवाल होंगे कि ग्लेशियर टूटने की घटना क्या है, इससे नदी का जनस्तर कैसे बढ़ता है और ग्लेशियर टूटते क्यों हैं? तो चलिए आज हम इस वीडियो में आपको इन्ही सवालों के जवाब देंगे।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


/* */