उत्तराखंडः सीएम रावत ने जिस महिला टीचर से किया दुर्व्यवहार, उसे बिग बॉस से मिला ऑफर

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के जनता दरबार में शिकायत लेकर आईं शिक्षिका उत्तरा बहुगुणा के साथ रावत की बहस हो गयी थी, जिसके बाद उन्होंने शिक्षिका को निलंबित करने के साथ ही हिरासत में लेने का आदेश दिया था।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

पिछले दिनों उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा जनता दरबार में जिस महिला शिक्षिका के साथ दुर्व्यवहार किये जाने का मामला सामने आया था, उस शिक्षिका को टीवी रियलिटी शो बिग बॉस से ऑफर मिला है। हालांकि शिक्षिका उत्तरा बहुगुणा ने ऑफर को ठुकरा दिया है। इस बात की पुष्टी करते हुए उत्तरा बहुगुणा ने बताया कि उन्हें बिग बॉस के अगले सीजन में भाग लेने का ऑफर आया है। उन्होंने कहा, "कल मुझे बिग बॉस के निर्माताओं का फोन आया था। लेकिन मैंने यह ऑफर ठुकरा दिया। मैं बस अपना घर चलाना और बच्चों की देखभाल करना चाहती हूं।"

बता दें कि 29 जून को उत्तरा बहुगुणा अपने ट्रांसफर की गुहार लगाने मुख्यमंत्री के जनता दरबार में पहुंची थीं। उनके आवेदन पर अचानक से सीएम रावत भड़क गए और उन्होंने महिला को अपशब्द कहते हुए उन्हें सस्पेंड करने और फौरन हिरासत में लेने का आदेश दे दिया। इस घटना का पूरा वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया जिसके बाद सीएम रावत की चौतरफा आलोचना हुई। हालांकि बाद में बीजेपी नेताओं ने मुख्यमंत्री के व्यवहार पर सफाई देते हुए कहा कि सीएम ने महिला को शालीनता से समझाने का प्रयास किया था।

हालांकि, इस घटना के बाद महिला को सस्पेंड करने के साथ ही हिरासत में भी ले लिया गया था। लेकिन बाद में थाने से ही छोड़ दिया गया। इस घटना के बाद महिला शिक्षिका उत्तरा बहुगुणा के समर्थन में सोशल मीडिया पर लोगों ने जमकर बीजेपी सरकार और सीएम रावत के व्यवहार की आलोचना की थी।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia