NTA ने घोषित किया नीट 2021 का रिजल्ट, हैदराबाद की मृणाल अव्वल, दूसरे स्थान पर रहे दिल्ली से तन्मय गुप्ता

हैदराबाद की मृणाल कुट्टेरी इन परीक्षाओं में अव्वल रही है। उन्होंने ने अखिल भारतीय रैंक 1 प्राप्त की है। उनके बाद दिल्ली से तन्मय गुप्ता दूसरे स्थान पर हैं और मुंबई से कार्तिका नायर तीसरे स्थान पर हैं।

फोटो सोशल मीडिया
फोटो सोशल मीडिया
user

आईएएनएस

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने नीट-2021 परीक्षा के परिणाम घोषित कर दिए हैं। हैदराबाद की मृणाल कुट्टेरी इन परीक्षाओं में अव्वल रही है। उन्होंने ने अखिल भारतीय रैंक 1 प्राप्त की है। उनके बाद दिल्ली से तन्मय गुप्ता दूसरे स्थान पर हैं और मुंबई से कार्तिका नायर तीसरे स्थान पर हैं। कार्तिका फीमेल उम्मीदवारों में भी अव्वल है। नतीजे घोषित किए जाने के साथ ही अब मेडिकल कॉलेजों में जल्द दाखिले शुरू किए जाएंगे। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी द्वारा सोमवार शाम नीट के छात्रों का रिजल्ट जारी किया गया है। एजेंसी ने छात्रों को आधिकारिक ईमेल पर यह रिजल्ट लिंक भेजा है।

दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने 28 अक्टूबर को एनटीए को नीट परिणाम 2021 जारी करने की अनुमति दी थी। सुप्रीम कोर्ट से अनुमति मिलने के बाद 1 नवंबर को एनटीए परीक्षा परिणाम की घोषणा कर दी है। एनटीए ने उम्मीदवारों के व्यक्तिगत ईमेल आईडी पर उनका स्कोरकार्ड साझा किया है। नीट 2021 की आधिकारिक वेबसाइट पर भी यह रिजल्ट जारी किया जाएगा।

इससे पहले संभावना जताई जा रही थी कि परीक्षा के एक माह बाद नीट यूजी परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया जाएगा। गौरतलब है कि परीक्षा परिणाम में अधिक देरी होने से 2021-22 के नए सत्र में भी देर हो सकती थी।

नीट परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले छात्रों को देश के विभिन्न प्रतिष्ठित मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस, बीएएमएस, बीएसएमएस, बीयूएमएस और बीएचएमएस समेत विभिन्न कोर्सेज में एडमिशन मिल सकेगा।

राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग अधिनियम, 2019 में संशोधन के उपरांत देशभर में स्थित 13 एम्स और पुडुचेरी के जवाहरलाल पीजी चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान के एमबीबीएस पाठ्यक्रम की प्रवेश परीक्षाएं भी नीट के जरिए से ली गई हैं।

परीक्षा के लगभग एक माह के बाद नीट यूजी का रिजल्ट घोषित करने की संभावना थी। हालांकि इसमें बहुत अधिक देरी नहीं हुई है, यह रिजल्ट परीक्षा के करीब 50 दिन बाद घोषित किया गया है।

नीट यूजी 2021 परीक्षा भारत के 202 शहरों में 3,800 से अधिक परीक्षा केंद्रों में रविवार 12 सितंबर को दोपहर 2 से शाम 5 बजे के बीच आयोजित की गई थी। पूरे देश में लगभग 16 लाख छात्रों ने परीक्षा में शामिल होने के लिए आवेदन किया था।

एनटीए के मुताबिक भारत सरकार की पहल पर मेडिकल प्रवेश परीक्षा 'नीट-यूजी' पहली बार दुबई में भी आयोजित की गई। दुबई स्थित परीक्षा केंद्र के अलावा कुवैत में भी नीट-यूजी परीक्षा आयोजित करवाई गई।

सामाजिक दूरी के मानदंडों को सुनिश्चित करने के लिए, परीक्षा वाले शहरों की संख्या 155 से बढ़ाकर 202 कर दी गई थी।

केंद्र सरकार ने इस बार नीट में परीक्षाओं में 27 प्रतिशत ओबीसी आरक्षण को लागू करने का फैसला किया है। साथ ही छात्रों को 13 भाषाओं में यह परीक्षा देने की सुविधा प्रदान की गई।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia