सिनेजीवन: नम आंखों से परिवार ने ऋषि कपूर को कहा अलविदा, बेटी रिद्धिमा नहीं कर पाईं अंतिम दर्शन

बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता ऋषि कपूर का 67 साल की उम्र में गुरुवार को निधन हो गया। खराब तबीयत के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनका अंतिम संस्कार मरीन लाइंस चंदनवाड़ी श्मशान घाट पर किया गया। इस दौरान ऋषि के परिजनों और करीबियों सहित 24 लोग मौजूद रहे।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

चंदनवाड़ी श्मशान घाट में किया गया ऋषि कपूर का अंतिम संस्कार, नहीं पहुंच सकी बेटी

बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता ऋषि कपूर का 67 साल की उम्र में गुरुवार को निधन हो गया। खराब तबीयत के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनका अंतिम संस्कार मरीन लाइंस चंदनवाड़ी श्मशान घाट पर किया गया। लॉकडाउन को देखते हुए विधि जल्दी संपन्न की गई। इस दौरान ऋषि के परिजनों और करीबियों सहित 24 लोग मौजूद रहे। उनकी बेटी रिद्धिमा दिल्ली से नहीं आ पाईं। लॉकडाउन के कारण र‍िद्ध‍िमा को पिता की अंतिम यात्रा में शामिल होने के लिए दिल्‍ली सरकार ने प‍रमिशन लेनी पड़ी। घटना की गंभीरता को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने रिद्धिमा कपूर सहित 5 लोगों के लिए मूवमेंट पास जारी किया है। हालांकि वो अंतिम संस्कार तक नहीं पहुंच सकी। ऋषि का दाह संस्कार इलेक्ट्रिक मशीन से हुआ है। अंतिम संस्कार में सिर्फ 24 लोगों के शामिल होने की इजाजत थी। अभिषेक बच्चन और 5 पुजारी वहां पहले से ही मौजूद थे। आदर जैन, आलिया भट्ट, सैफ अली खान भी वहां बाद में पहुंचे। नीतू कपूर, रणबीर कपूर, रीमा जैन, मनोज जैन, अरमान जैन, आदर जैन, अनीशा जैन, विमल पारेख, आलिया भट्ट, अयान मुखर्जी, राहुल रवैल, करीना कपूर, सैफ अली खान, राजीव कपूर, रणधीर कपूर, नताशा नंदन, रोहित धवन, राहुल रवैल, अभिषेक बच्चन समेत कुल 24 लोग अंतिम संस्कार में शामिल हुए।

इसे भी पढ़ें- ल्यूकेमिया से हुई ऋषि कपूर की मौत, जानें कितनी खतरनाक है ये बीमारी, क्या हैं लक्षण और इलाज

सिनेजीवन: नम आंखों से परिवार ने ऋषि कपूर को कहा अलविदा, बेटी रिद्धिमा नहीं कर पाईं अंतिम दर्शन

आखिरी वक्त तक डॉक्टरों को एंटरटेन करते रहे ऋषि कपूर, अमिताभ ने दी थी निधन की जानकारी

बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता ऋषि कपूर के निधन की खबर सबसे पहले अभिनेता अमिताभ बच्चन ने ट्वीट करके दी। सोशल मीडिया पर अमिताभ के इस ट्वीट के सामने आते ही फैंस और सितारों ने श्रद्धांजलि देना और शोक जाहिर करना शुरू कर दिया। अमिताभ बच्चन ने आज सुबह नौ बजकर 32 मिनट पर ट्वीट किया। अमिताभ ने अपने ट्वीट में लिखा, ' वो चले गए.. ऋषि कपूर... वो चले गए.. उनका निधन हो गया। मैं टूट गया हूं।' हालांकि बाद में उन्होंने इसे डिलीट भी कर दिया, लेकिन इसके पीछे का कारण अभी पता नहीं चल पा रहा है। ऋषि कपूर अंतिम क्षणों तक डॉक्टर व नर्सों को एंटरटेन कर रहे थे। इस बारे में ऑफिशियल स्टेटेमेंट में बताया गया कि वह डॉक्टरों-मेडिकल स्टाफ को हंसाते रहे, उनका मनोरंजन करते रहे। वहीं परिवार की तरफ से जारी एक शोक संदेश में कहा गया है कि ऋषि कपूर दो साल तक दो अलग-अलग महाद्वीपों में चले इलाज के दौरान हमेशा खुश रहे और जिंदगी जीने की इच्छा हमेशा उनमें कायम रही। दोस्त यार, परिवार, खाना खिलाना और फिल्में, बस इन्हीं में उनका दिल बसता था और इस दौरान जो भी उनसे मिला, ये देखकर हैरान रहा कि कैसे उन्होंने कैंसर जैसी बीमारी को कभी खुद पर हावी नहीं होने दिया।

सिनेजीवन: नम आंखों से परिवार ने ऋषि कपूर को कहा अलविदा, बेटी रिद्धिमा नहीं कर पाईं अंतिम दर्शन

मौत से पहले ऋषि कपूर की आखिरी इच्छा क्या थी?

दिग्गज अभिनेता ऋषि कपूर के निधन के बाद उनका एक बयान वायरल हो रहा है। कैंसर का इलाज करवा कर आने के बाद ऋषि कपूर ने रणबीर और आलिया की शादी पर बात की थी। जहां पर उन्होंने साफ तौर पर अपनी आखिरी इच्छा जाहिर की। ऋषि कपूर ने एक इंटरव्यू में कहा था कि मुझे लगता है कि रणबीर को शादी कर लेनी चाहिए। मैं 27 की उम्र में सेट हो गया था। रणबीर 35 का हो चुका है। उसे अब शादी के बारे में सोचना चाहिए। ऋषि ने बेटे की शादी पर कहा कि वह किसी भी लड़की से शादी कर सकता है। हमें किसी भी तरह की कोई परेशानी नहीं है। मैं यह दुनिया छोड़ने से पहले अपने पोते-पोतियों के साथ वक्त बिताना चाहता हूं। ऋषि ने साफ कहा था कि रणबीर मेरे दोस्त नहीं है। शायद इस वजह से शादी जैसे विषय पर बात नहीं हो पाती है। उन्होंने कहा मैंने रणबीर से इस बारे में बात नहीं की, लेकिन मेरी वाइफ नीतू कपूर हमेशा इस पर उससे पूछती रहती है। वह हमेशा इस सवाल से बचने की कोशिश करता है। जब वह तैयार होगा शादी के लिए हम भी तैयार हो जायेंगे। आलिया और रणबीर के रिलेशनशिप पर ऋषि कपूर ने कहा था कि जो है वो सबको पता है। मुझे इससे ज्यादा इस पर बोलने की कोई जरूरत नहीं है।

सिनेजीवन: नम आंखों से परिवार ने ऋषि कपूर को कहा अलविदा, बेटी रिद्धिमा नहीं कर पाईं अंतिम दर्शन

ऋषि कपूर का आखिरी ट्वीट देश के नाम, कोरोना वॉरियर्स को किया सलाम

सोशल मीडिया की दुनिया में ऋषि कपूर की बातें, फोटो, तस्वीरें , फिल्में तमाम चीजें छाई हुई हैं। इस बीच ऋषि कपूर की आखिरी बात जो उन्होंने फैंस से सीधे सोशल मीडिया के जरिए की, वह खासा वायरल हो रही है। दरअसल कैंसर युद्धाओं पर ऋषि कपूर ने आखिरी ट्वीट किया था। ऋषि कपूर ने सोशल मीडिया के जरिए कोरोना वायरस के बीच अपनी जान जोखिम में डालकर लड़ने वाले डॉक्टर, नर्स और तमाम लोगों को धन्यवाद दिया था। दो अप्रैल को ऋषि कपूर ने आखिरी ट्वीट किया था। उन्होंने लिखा था, 'मेरी सभी भाईयों और बहनों से हाथ जोड़कर अपील है। कृपया हिंसा, पत्थरबाजी और लिंचिंग का सहारा न लें। कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में डॉक्टर्स, नर्स, मेडिकल क्षेत्र से जुड़े लोग, पुलिसकर्मी व तमाम लोग हमारी जिंदगी बचाने में मदद कर रहे हैं। हम जरूर कोरोना वायरस के खिलाफ ये लड़ाई जीतेंगे। जय हिंद।' ऋषि कपूर की आखिरी फिल्म 102 नॉटआउट थी। एक बार फिर ऋषि कपूर ने अमिताभ बच्चन के साथ इस फिल्म में काम किया था। दोनों ने अमर अकबर एंथनी जैसी तमाम फिल्में अपने करियर में साथ में की हैं।


जब ऋषि कपूर ने कहा था- मैंने 30 हजार देकर अवॅार्ड खरीदा

ऋषि कपूर हिंदी सिनेमा में शुरुआती समय में अपने रोमांस को लेकर चर्चा में रहे और बाद के वक्त अपने बयान को लेकर बायोग्राफी 'खुल्लम खुल्ला : ऋषि कपूर अनसेंसर्ड' में ऋषि की लाइफ के कई रोचक खुलासे किए गए हैं। मीना अय्यर द्वारा लिखी गई इस किताब में ऋषि ने अपनी लव लाइफ के बारे में भी बताया था। अवॅार्ड खरीदने, अमिताभ बच्चन का घमंड और संजय दत्त के साथ फाइट के साथ उन्होंने पिता राज कपूर के रोमांस के भी सारे राज खोल दिए।अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम से मुलाकात का किस्सा भी शामिल है। हिंदी सिनेमा के लिए ये किसी भूचाल से कम नहीं रहा। ऋषि कपूर का कहना था कि मैंने 30 हजार देकर फिल्मफेयर अवॅार्ड अपने नाम किया था। ये बात 1973 की है। उन्होंने किताब में बताया है कि मान लो मैंने अवार्ड खरीदा ही था क्योंकि एक आदमी ने मुझसे कहा था कि मुझे अवार्ड दिलवा देगा। बदले में तीस हज़ार लेगा। अब मैंने पैसे दे दिए और बाद में मुझे अवार्ड मिल गया तो मैं आज तक यही मानता हूं कि मैंने अवार्ड खरीदा था। अमिताभ को टक्कर देने के लिए ऋषि कपूर ने ऐसा किया था।

ऋषि कपूर के अंतिम संस्कार के दौरान 24 लोग रहे मौजूद
ऋषि कपूर के अंतिम संस्कार के दौरान 24 लोग रहे मौजूद

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia