सिनेजीवन: सुशांत की आखिरी फिल्म की रिलीज डेट आई सामने और टिकटॉक स्टार सिया कक्कड़ ने की आत्महत्या

सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म "दिल बेचारा" को लेकर ऑफिशियल ऐलान हो चुका है। फिल्म हॉटस्टार पर 24 जुलाई को रिलीज होगी और अभिनेता वरुण धवन की फिल्म हीरो नंबर वन रीमेक को लेकर खबर है कि फिल्म ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज जी जाएगी, इन सबके बीच डेविड धवन का भी बयान सामने आया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कभी नहीं सोचा था दिल बेचारा सुशांत के बिना रिलीज होगी: मुकेश छाबरा

सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म "दिल बेचारा" को लेकर ऑफिशियल ऐलान हो चुका है। फिल्म हॉटस्टार पर 24 जुलाई को रिलीज होगी। बॉलीवुड में निर्देशन क्षेत्र में डेब्यू करने जा रहे मुकेश छाबरा ने एक बार फिर अपने दोस्त और साथी सुशांत सिंह राजपूत के लिए इमोशनल कर देने वाला नोट लिखा। उन्होंने सोशल मीडिया पर पोस्ट के जरिए कहा कि ये फिल्म उनके लिए क्यों इतनी मायने रखती है। उन्होंने कहा, " 'काई पो छे' के दौरान ही सुशांत ने मुझे वादा किया था कि वह जरूर मेरी पहली फिल्म में काम करेंगे। उन्होंने ऐसा किया भी। लेकिन मैंने ये कभी नहीं सोचा था कि इस फिल्म को सुशांत के बिना ही रिलीज करनी पड़ेगी।" फिल्म की पूरी टीम सुशांत सिंह राजपूत के लिए दुखी हैं।

इसे भी पढ़ें- अभय देओल ने खोले बॉलीवुड के गहरे राज और करिश्मा के जन्मदिन पर करीना ने साझा की बचपन की यादें

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

OTT पर रिलीज होगी कुली नंबर 1? डेविड धवन ने दिया ये जवाब

अभिनेता वरुण धवन की फिल्म हीरो नंबर वन रीमेक को लेकर खबर है कि फिल्म ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज जी जाएगी और इसमें कई तरह के बदवाल किए जाएंगे। खबर ये भी आई था कि फिल्म कोरोना वायरस की कहानी भी दिखाई जाएगी। लेकिन अब इस सबको लेकर निर्देशक डेविड धवन का बयान सामने आया है। कुली नंबर 1 को कोरोना वायरस की कहानी बताने को लेकर उन्होने बड़ा खुलासा किया है। उनका कहना है कि ये सब सिर्फ अफवाह और इससे ज्यादा कुछ नहीं। डेविड ने कहा कि फिल्म की कहानी ओरिजनल कहानी ही रहेगी और इसमें किसी तरह के बदलाव नहीं होने वाले हैं। फिल्म को ओटीटी पर रिलीज करने को लेकर उनका कहना है कि फिल्म किसी सूरत में ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज नहीं होगी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

टिकटॉक स्टार सिया कक्कड़ ने की आत्महत्या

सुशांत सिंह राजपूत के बाद टिकटॉक स्टार सिया कक्कड़ ने अज्ञात कारणों से सुसाइड कर लिया है। 2 दिन बीत चुके हैं, लेकिन पुलिस के लिए सिया कक्कड़ की आत्महत्या फिलहाल एक पहेली बना हुआ है। फिलहाल पुलिस सिया कक्कड़ केस में जांच कर रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुलिस को सिया के घर से कुछ जरूरी कागजात मिले हैं जिसके बाद अनुमान लगाया जा रहा है कि इस केस में नया मोड़ आ सकता है। सिया कक्कड़ महज 16 साल की थीं, और इस छोड़ी से उम्र में वह टिकटॉक से लेकर अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर काफी लोकप्रिय हो चुकी थीं। फिलहाल सुसाइड का कारण क्या था ये तो साफ नहीं हो पाया है। लेकिन बताया जा रहा है कि सिया पिछले लंबे समय से डिप्रेशन में थीं। वहीं कुछ रिपोर्ट्स में कहा गया है कि सिया को धमकियां मिल रही थीं। पुलिस धमकियां क्यों मिल रही थीं? इसकी जांच में जुट गई हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

संदीप कपूर की फिल्म 'भोंसले' सोनी लिव पर होगी रिलीज

हाल ही में फिल्म 'भोंसले' के निर्माताओं ने ओटीटी प्लेटफॉर्म सोनी लिव पर फिल्म के देशव्यापी रिलीज की घोषणा की। फिल्म 26 जून को सोनी लिव ऐप पर रिलीज होगी। 'भोंसले' एक उम्रदराज मराठी सब-इंस्पेक्टर की फिल्म है, जो अभी-अभी अपनी इच्छा के विरुद्ध सेवानिवृत्त हुए हैं। भोंसले कानून एवं आम आदमी की रक्षा करने वाला दुर्लभ किस्म का पुलिसवाला है, जिसके पास नियम पुस्तिका की तुलना में मानव की अनुकूल स्थिति कहीं अधिक महत्वपूर्ण है और यही उसकी सबसे बड़ी ताकत है जो कि उसे अंदर से मजबूत बनाती है। फिल्म में मनोज बाजपेयी ने सब-इंस्पेक्टर भोंसले की मुख्य भूमिका अदा की है, जबकि उनके साथ संतोष जुवेकर, इप्शिता चक्रवर्ती सिंह और विराट वैभव सहायक भूमिकाओं में हैं। फिल्म देवाशीष मखीजा द्वारा निर्देशित, जबकि शबाना रजा बाजपेयी, संदीप कपूर, पीयूष सिंह, सौरभ गुप्ता और अभयानंद सिंह द्वारा निर्मित है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS

'नेपोटिज्म इन बॉलीवुड' के ऑनलाइन सर्च में 1993 फीसदी वृद्धि

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के असामयिक निधन के बाद बॉलीवुड में प्रचलित खेमबाजी को लेकर सवाल उठने लगे, भाई-भतीजावाद या नेपोटिज्म को लेकर भी बहस छिड़ गई और यह अब भी जारी है। हाल ही में हुए एक अध्ययन में यह पता चला है कि 14 जून को सुशांत के निधन के बाद 15 जून को नेपोटिज्म इन बॉलीवुड इस कीवर्ड के सर्च में 2000 प्रतिशत तक की वृद्धि हुई। सेमरश द्वारा किए गए एक अध्ययन से इस बात का पता चला कि मई 2019 से जून 2020 तक कितनी बार नेपोटिज्म शब्द को ऑनलाइन लोगों द्वारा खोजा गया। इसमें यह दशार्या गया कि इस अवधि के दौरान इसे हर महीने औसतन 62,458 बार खोजा गया। नतीजे से यह पता चला कि सुशांत सिंह के निधन के बाद इसे सर्च करने की दर में स्वाभाविक रूप से ही कहीं अधिक वृद्धि हुई। हालांकि इस वृद्धि के बाद इसे खोजने की दर में गिरावट भी आई। 15-16 जून को इस कीवर्ड को खोजे जाने की संख्या औसत से केवल 153 प्रतिशत अधिक थी।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia