71वां शतक लगाने के बाद कोहली बोले- एशिया कप में मेरा एकमात्र लक्ष्य सुधार करना था, टी20 विश्व कप पर हमारा ध्यान

भारत के पूर्व कप्तान विराट कोहली ने एशिया कप सुपर-फोर मैच में अफगानिस्तान के खिलाफ अपना 71वां शतक लगाया। इसके बाद उन्होंने कहा कि वह केवल अपने खेल में सुधार करने और टीम के लिए काम करने के एकमात्र लक्ष्य के साथ टूर्नामेंट में आए थे।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

भारत के पूर्व कप्तान विराट कोहली ने एशिया कप सुपर-फोर मैच में अफगानिस्तान के खिलाफ अपना 71वां शतक लगाया। इसके बाद उन्होंने कहा कि वह केवल अपने खेल में सुधार करने और टीम के लिए काम करने के एकमात्र लक्ष्य के साथ टूर्नामेंट में आए थे। कोहली ने कहा, "मेरा एकमात्र लक्ष्य एशिया कप में अपने प्रदर्शन में सुधार करना था। टीम के नजरिए से मुझे जिन चीजों में सुधार करने की जरूरत थी, मैंने टूर्नामेंट में आकर उसे सुधारने में कोशिश की।"

हालांकि, कोहली का पहला टी20 शतक देर से आया क्योंकि भारत पहले पाकिस्तान और श्रीलंका से हार के बाद टूर्नामेंट से बाहर हो गया था।

भारत के पूर्व कप्तान ने कहा, "एक टीम के रूप में यह हमारे लिए एक बहुत ही खास दिन था। हमने पिछले मैच (श्रीलंका के खिलाफ हार) के बाद कहा था कि हमें सकारात्मक दृष्टिकोण के साथ मैदान (अफगानिस्तान के खिलाफ) पर उतरना है, क्योंकि यह हमारे लिए बहुत मायने रखता है। निश्चित रूप से यह टूर्नामेंट हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण था। हमें नॉकआउट चरणों का अनुभव मिला, हम दबाव की स्थितियों से अवगत हुए।"

हालांकि, कोहली ने कहा कि मुख्य लक्ष्य अक्टूबर-नवंबर में आस्ट्रेलिया में होने वाला आईसीसी टी20 विश्व कप है, जिसके लिए एशिया कप से टीम को काफी कुछ सीखने में मदद मिली है।
कोहली ने कहा, "लेकिन हमारा लक्ष्य, सभी जानते हैं, आस्ट्रेलिया में टी 20 विश्व कप है, और हम खेल के सभी पहलुओं में सुधार कर रहे हैं। हम उन मैचों (यहां) से सीखेंगे जो हमारे लिए अच्छे नहीं रहे।"


रोहित शर्मा ने लंबे समय से प्रतीक्षित 71वें अंतरराष्ट्रीय शतक पर कोहली की तारीफ करते हुए कहा कि इस बल्लेबाज ने अच्छी तरह से बल्लेबाजी की और शतक बनाने के अपने प्रयास में कुछ बेहतरीन शॉट लगाए।

शर्मा ने बीसीसीआई पर पोस्ट किए गए एक वीडियो में कहा, "आपका 71वां शतक, पूरा देश इंतजार कर रहा था। आपने क्रिकेट खेलने में जो समय बिताया है, मुझे यकीन था कि आप जल्द ही शतक लगाओगे। मुझे लगता है कि आज की पारी खास थी क्योंकि हम टूर्नामेंट को जीत के साथ समाप्त करना चाहते थे। हमने देखा आपकी पारी में बहुत सी चीजें देखने को मिलीं, जिसमें अच्छी शुरूआत के साथ बेहतर शॉट चयन भी था।"

कोहली ने खुलासा किया कि एशिया कप से पहले क्रिकेट से एक महीने का ब्रेक उनके 13-14 साल के पेशेवर करियर में पहली बार था, जब उन्होंने क्रिकेट का बल्ला नहीं उठाया था।
कोहली ने कहा कि टीम के लिए और योगदान देने के लिए उन्हें अफगानिस्तान के खिलाफ बड़ी पारी खेलनी थी। 33 वर्षीय बल्लेबाज ने गुरुवार को अफगानिस्तान के खिलाफ 61 गेंदों में नाबाद 122 रनों की पारी खेली।


उन्होंने कहा, "मुझे इस तरह की पारी खेलनी थी क्योंकि (टी 20) विश्व कप अब ज्यादा दूर नहीं है। अगर मैं अच्छा खेलता हूं, तो मैं टीम में और योगदान दे सकता हूं। 3-4 दिन पहले राहुल द्रविड़ ने मुझसे बात की है पहले बल्लेबाजी करना और बीच के ओवरों के चरण का बेहतर उपयोग कैसे करना है। मैं अपनी स्ट्राइक रेट कैसे सुधार सकता हूं। मेरा एकमात्र लक्ष्य यह था कि टीम के नजरिए से मुझे जिन चीजों में सुधार करने की जरूरत थी, मैं उस पर अमल करूंगा।"

कोहली ने कहा कि ब्रेक के बाद अपना पहला टी20 शतक बनाने के बाद उन्हें आश्चर्य हुआ कि वास्तव में यह शतक खेल के छोटे प्रारूप में आया।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia