अर्थव्यवस्था के पटरी से उतरने के बाद बाजार में हाहाकार, सेंसेक्स में 400 अंक से ज्यादा की गिरावट

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 151.03 अंकों की गिरावट के साथ 37,181.76 पर, जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 62.3 अंकों की बढ़त के साथ 10,960.95 पर खुला।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

कोर सेक्‍टर और जीडीपी में गिरावट के ताजा आंकड़ों का असर भारतीय शेयर बाजार पर देखने को मिल रहा है। गणेश चतुर्थी के मौके पर सोमवार को बंद रहा शेयर बाजार मंगलवार को भारी गिरावट के साथ खुला। शुरुआती कारोबार में प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स सुबह 10.22 बजे 413.58 अंकों की गिरावट के साथ 36,919.21 पर कारोबार करते देखा गया। निफ्टी भी लगभग इसी समय 129.30 अंकों की कमजोरी के साथ 10,893.95 पर कारोबार करते देखा गया।

अर्थव्यवस्था के पटरी से उतरने के बाद बाजार में हाहाकार, सेंसेक्स में 400 अंक से ज्यादा की गिरावट

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 151.03 अंकों की गिरावट के साथ 37,181.76 पर, जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 62.3 अंकों की बढ़त के साथ 10,960.95 पर खुला।

गौरतलब है कि अर्थव्यवस्था की हालत बेहद खस्ता है। मौजूदा वित्त वर्ष की पहली तिमाही में आर्थिक विकास की दर करीब 6 साल में सबसे कम होकर 5 फीसदी पर पहुंच गई है। एक साल में ही जीडीपी में 3 फीसदी की भारी गिरावट दर्ज की गई है।

सोमवार को जारी कोर सेक्टर ग्रोथ के आंकड़े सामने आए हैं जो इस साल जुलाई में 2.1 फीसदी पर पहुंच गए हैं। पिछले साल कोर सेक्टर की विकास दर 7.3 थी लेकिन इस साल इसमें करीब तीन चौथाई की गिरावट दर्ज की गई है। कोर सेक्टर में बिजली, स्टील, रिफाइनरी प्रोडक्ट, क्रूड ऑयल, कोल, सीमेंट, नेचुरल गैस और फर्टिलाइजर सेक्टर शामिल हैं। सोमवार को आए नए पीएमआई आंकड़ों से इसका खुलासा हुआ है। ताजा आंकड़े बताते हैं कि आठ कोर सेक्टर में से 5 में जबरदस्त गिरावट हुई है।

Published: 3 Sep 2019, 12:08 PM
लोकप्रिय