सामने बैठे थे इमरान खान, आतंकवाद पर जमकर बरसते रहे पीएम मोदी, फोटो सेशन में भी पाक पीएम से रहे दूर 

प्रधानमंत्री नरेेंद्र मोदी पाक पीएम के समाने आतंकवाद पर जमकर बरसे। पीएम मोदी ने कहा, “साहित्य और संस्कृति हमारे समाज को सकारात्मकता देती है। ऐसे में युवाओं के बीच कट्टरता फैलाना बंद किया जाना चाहिए।”

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

भारत और पाकिस्तान की तल्खी शंघाई कॉपरेशन ऑर्गनाइजेशन (एससीओ) समिट के दूसरे दिन भी दिखी। आज भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने पाकिस्तानी समकक्ष इमरान खान से दूर नजर आए। किर्गिस्तान के बिश्केक में हुए कार्यक्रम में फोटो शूट के दौरान भी पीएम मोदी ने इमरान से दूरी बनाए रखी।

एससीओ सदस्य देशों के राष्ट्राध्यक्षों की फोटोग्राफी के दौरान भी दोनों दूर-दूर रहे। फोटोग्राफ के लिए जाते वक्त पीएम मोदी चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के साथ-साथ चल रहे थे, जबकि इमरान उस दौरान बाकी नेताओं के साथ पीछे थे। मंच पर सब एक साथ खड़े हुए, पीएम मोदी मंच पर सबसे किनारे खड़े हुए, जबकि पाक पीएम रूसी राष्ट्रपति व्लादीमिर पुतिन के बगल में खड़े हुए। तस्वीर खिंचाने के दौरान पीएम मोदी ने इमरान की तरफ देखा भी नहीं, जबकि फोटो सेशन के बाद वह अगल-बगल खड़े नेताओं के साथ आगे बढ़ गए।

वहीं अपने संबोधन में भी पीएम मोदी पाक पीएम के समाने आतंकवाद पर जमकर बरसे। पीएम मोदी ने कहा, “साहित्य और संस्कृति हमारे समाज को सकारात्मकता देती है। ऐसे में युवाओं के बीच कट्टरता फैलाना बंद किया जाना चाहिए। श्रीलंका दौरे पर मैंने आतंक का घिनौना रूप देखा था, जिसने मासूमों की जिंदगियां लील ली थीं। आतंक का सामना करने के लिए, सभी मानवतावादी ताकतों को आगे आना होगा। जो भी देश आतंक को बढ़ावा, सहयोग और आर्थिक मदद देंगे, उन्हें उसके लिए जिम्मेदार ठहराया जाएगा।”

बता दें कि गुरुवार को लंच के दौरान भी दोनों नेता एक दूसरे से दूर ही रहे थे। दरअसल, बिश्केक में एससीओ सदस्य देशों के नेताओं के गुरुवार रात डिनर आयोजित किया गया था। पीएम मोदी और इमरान खान भी उसमें शामिल हुए, पर उन दोनों ने न तो हाथ मिलाए और न ही कोई बातचीत हुई।

Published: 14 Jun 2019, 3:00 PM
लोकप्रिय