कोरोना संकट के बीच इस देश पर नई आफत! वैज्ञानिकों ने कहा- मंगलवार से दिखेगा ‘कुदरती आफत’ का एक और दौर

अमेरिकी वैज्ञानिकों ने दक्षिण अमेरिका और मिडवेस्ट में फिर से भयंकर तूफान की चेतावनी जारी की है। वैज्ञानिकों का कहना है कि इन इलाकों में दूसरी बार पहले से भी ज्यादा गंभीर एक नए तूफान की परिस्थितियां बन रही हैं।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

एक ओर जहां इस समय पूरी दुनिया कोरोना वायरस की मार झेल रही है वहीं दूसरी ओर कुदरती आफत ने कई देशों को चिंता में डाल दिया है। अमेरिका भी इन देशों में से एक है। अमेरिका में कोरोना से अबतक 50 हजार से ज्यादा लोगों जान चली गई है। वहीं दूसरी ओर तीन दिन पहले आए तूफान और बवंडर ने अमेरिका में काफी तबाही मचाई, जिसमें 7 लोगों की जान चली गई। एक बार फिर अमेरिका पर कुदरत की आफत का खतरा मंडरा रहा है।

इसे भी पढ़ें- देश में नहीं थम रहे कोरोना के मामले, 24 घंटे में 1396 नए केस, 48 मौतें, कुल मरीजों की संख्या 28 हजार के करीब

अमेरिकी वैज्ञानिकों ने दक्षिण अमेरिका और मिडवेस्ट में फिर से भयंकर तूफान की चेतावनी जारी की है। वैज्ञानिकों का कहना है कि इन इलाकों में दूसरी बार पहले से भी ज्यादा गंभीर एक नए तूफान की परिस्थितियां बन रही हैं। द वेदर चैनल के मुताबिक, मौसम वैज्ञानिकों ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि मध्य अमेरिका में मौसम का यह नया सिस्टम मंगलवार से अपनी रफ्तार पकड़ेगा और इसके बाद मेक्सिको की खाड़ी से उत्तर की ओर बढ़ते हुए नमी को खींचना शुरू करेगा। जानकारी के मुताबिक मंगलवार की रात को मिसिसिपी घाटी से दक्षिणी मैदानों में बारी बारिश और तूफान की गतिविधियां बढ़ेंगी।

रिपोर्ट के मुताबिक, तेज और भयानक आंधी-तूफान का सबसे बड़ा खतरा मिसौरी के कुछ हिस्सों से दक्षिणपूर्वी केंसास, पूर्वी ओक्लाहोमा, उत्तरी एवं पूर्वी टेक्सास, अर्कांसस और उत्तरी लुइसियाना की ओर बढ़ने का है। इन इलाकों में तेज हवाओं, भारी ओलावृष्टि और बवंडर का भी सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा बुधवार को निम्न दबाव का सिस्टम पूर्व की ओर बढ़ना शुरू होगा। इस दौरान मिडवेस्ट के कुछ हिस्सों में बारिश जारी रहेगी, जबकि दक्षिण अमेरिका के इलाकों में बारिश और गरज के साथ बौछारें पड़ सकती हैं।

अमेरिका के मौसम वेज्ञानिकों का कहना है कि दक्षिण के कुछ हिस्सों में बुधवार को भी तेज और भारी तूफान जारी रह सकता है, लेकिन इसकी तीव्रता कितनी रहेगी, इसे लेकर अभी कुछ नहीं कहा जा सकता। इसके साथ ही दक्षिण पूर्व के हिस्सों में, मुख्य तौर पर फ्लोरिडा और तटों की ओर बारिश के अलावा गरज के साथ बौछारें पड़ सकती हैं। मौसम के इस सिस्टम में काफी नमी होगी, जिसकी वजह से मंगलवार से लेकर गुरुवार तक मिसिसिपी घाटी और मिडवेस्ट में तेज बारिश देखने को मिलेगी।

इसे भी पढ़ें- चीन के जिस वुहान से दुनिया में फैला कोरोना, बिछे थे लाशों के ढेर, वहां से आई चौंकाने वाली रिपोर्ट

लोकप्रिय
next