बीजेपी को बड़ा झटका, सुमित्रा महाजन ने चुनाव नहीं लड़ने का किया ऐलान, कहा- पार्टी में है असमंजस की स्थिति

लोकसभा अध्यक्ष और इंदौर से सांसद सुमित्रा महाजन ने लोकसभा चुनाव न लड़ने का ऐलान कियाहै। इसका ऐलान उन्होंने बीजेपी को पत्र लिखकर किया है। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने अभी तक इंदौर में अपना उम्मीदवार घोषित नहीं किया है। यह अनिर्णय की स्थिति क्यों है।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

लोकसभा स्पीकर और इंदौर से बीजेपी सांसद सुमित्रा महाजन ने लोकसभा चुनाव लड़ने से इनकार किया है। उन्होंने शुक्रवार को एक चिट्ठी भी लिखी है जिसमें बीजेपी को लेकर नाराजगी झलके हैं। उन्होंने कहा, “बीजेपी में उनके टिकट को लेकर असमंजस है और निर्णय लेने में दिक्कत हो रही है। इसलिए अब लोकसभा चुनाव नहीं लड़ूंगी। पार्टी को अब इंदौर सीट पर जल्द नाम तय करना चाहिए।”

सुमित्रा महाजन ने नाराजगी भरे लहजे में सवाल किया कि उनकी पार्टी ने इंदौर लोकसभा सीट से अभी तक प्रत्याशी का ऐलान क्यों नहीं किया है, क्या पार्टी को किसी तरह का संकोच हो रहा है। अनिर्णय की स्थिति क्यों है? लोकसभा स्पीकर ने आगे कहा, “शायद पार्टी को निर्णय लेने में कोई संकोच हो रहा है, मैंने पहले ही ये फैसला उनपर छोड़ दिया था। लेकिन इस देरी के कारण मैं ऐलान कर रही हूं कि मैं खुद चुनाव नहीं लड़ूंगी, ताकि पार्टी बिना किसी संकोच के निर्णय ले सके।”

इससे पहले भी टिकट को लेकर कई वरिष्ठ नेता सवाल उठा चुके हैं। बीजेपी ने लालकृष्ण आडवाणी को गांधीनगर, मुरली मनोहर जोशी को कानपुर और शांता कुमार को हिमाचल प्रदेश से टिकट नहीं दिया है।

बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने बीजेपी के स्थापना दिवस से दो दिन पहले ब्लॉग लिखकर मौजूदा बीजेपी के तौर-तरीके पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा है कि भारतीय लोकतंत्र विविधता और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का सम्मान करता है। जो हमारे विचारों से सहमत नहीं हुआ है उन्हें बीजेपी ने कभी भी अपना राजनीतिक दुश्मन नहीं माना है, बल्कि सिर्फ विरोधी के तौर पर देखा है।

इसे भी पढ़ें: लाल कृष्ण आडवाणी ने बीजेपी नेतृत्व पर उठाए सवाल, कहा- पार्टी के विचार से सहमति नहीं रखने वाले ‘देशद्रोही’ नहीं

इससे पहले टिकट कटने के बाद मुरली मनोहर जोशी ने कहा था कि उन्हें चुनाव नहीं लड़ने के लिए कहा गया है, लेकिन वह इस बात से खफा थे कि पार्टी अध्यक्ष ने उन्हें खुद इस बात की जानकारी नहीं दी थी। उन्होंने कानपुर की जनता के नाम पत्र लिखा था।

इसे भी पढ़ें: बीजेपी नेता मुरली मनोहर जोशी का जनता के नाम भावुक संदेश, बोले- लोकसभा चुनाव लड़ने से मुझे पार्टी ने रोका

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;