बिहार डिप्टी CM पद से सुशील मोदी का पत्ता साफ! दर्द भरा ट्वीट कर कहा- कोई नहीं छीन सकता कार्यकर्ता का पद

बिहार में डिप्टी सीएम को लेकर चल रहे सस्पेंस के बीच पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने दुखी मन से ये संकेत दिए हैं कि इस बार वो राज्य के उप मुख्यमंत्री नहीं बन रहे हैं। सुशील मोदी ने अपनी दावेदारी छोड़ने के बाद कहा कि कार्यकर्ता का पद उनसे कोई छीन नहीं सकता।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

पवन नौटियाल

बिहार में नई सरकार बनने से पहले दिग्गजों को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इसमें से एक राज्य में डिप्टी सीएम को लेकर भी है। बिहार में उप मुख्यमंत्री कौन होगा? इसका जवाब ना ही नीतीश कुमार के पास है और ना ही दिल्ली से मंथन करने बिहार आए केंद्रीय मंत्री को।

इसे भी पढ़ें- NDA का नेता चुने जाने के बाद नीतीश कुमार ने नई सरकार बनाने का दावा किया पेश, कल लेंगे CM पद की शपथ

लेकिन इन सबके बीच बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और जिस शख्स को लेकर ये सस्पेंस चल रहा था यानी सुशील मोदी ने खुद संकेत दे दिए हैं कि इस बार वो डिप्टी सीएम नहीं बन रहे हैं। बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की सरकार में हर बार उप मुख्यमंत्री रहे बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने इस बार दुखी मन से अपनी दावेदारी छोड़ने के बाद कहा कि कार्यकर्ता का पद उनसे कोई छीन नहीं सकता।

सुशील मोदी ने अपने ट्विटर बायो से डिप्टी सीएम भी हटा दिया है। सुशील मोदी ने सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर ट्वीट कर आज खुद जानकारी दी कि उनकी जगह कटिहार के विधायक तारकिशोर प्रसाद को भाजपा विधानमंडल दल का नया नेता चुना गया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'तारकिशोर जी को भाजपा विधानमंडल दल का नेता सर्वसम्मति से चुने जाने पर कोटिश: बधाई!' इसके बाद मोदी ने भावनात्मक ट्वीट में कहा, 'बीजेपी एवं संघ परिवार ने मुझे 40 वर्षों के राजनीतिक जीवन में इतना दिया कि शायद किसी दूसरे को नहीं मिला होगा। आगे भी जो जिम्मेवारी मिलेगी उसका निर्वहन करूंगा। कार्यकर्ता का पद तो कोई छीन नहीं सकता।'

गौरतलब है कि बिहार में एनडीए की हुई बैठक में आज नीतीश कुमार को सर्वसम्मति से एनडीए विधायक दल का नेता चुन लिया गया है। इस बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी शामिल हुए। विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद नीतीश कुमार ने राजभवन जाकर सरकार बनाने का दावा पेश किया। नीतीश कुमार बिहार के सातवीं बार मुख्यमंत्री बनेंगे। नई सरकार बनाने का दावा पेश करने के बाद नीतीश कमार ने कहा कि शपथ ग्रहण समारोह सोमवार को होगा। आपको बता दें, राज्य में BJP के पास एनडीए में सर्वाधिक 74 विधायक हैं। जबकि जदयू के 43 विधायक। जबकि सहयोगी दल हम और वीआईपी के पास 4-4 सीटें हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia