बजट 2019: जानें निर्मला सीतारमण के पिटारे से महिलाओं, युवाओं, किसानों, छोटे दुकानदारों को क्या मिला?

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला आम बजट संसद में पेश किया। इस बजट में युवाओं, किसानों, महिलाओं और छोटे दुकानदारों के लिए क्या कुछ मिला। आइए आपको बतातेे है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

लोकसभा चुनाव के बाद मोदी सरकार का पहला पूर्ण बजट शुक्रवार को वित्त मंत्री निर्मली सीतारमण ने संसद में पेश किया। इस दौरान उन्होंन कई बड़ी घोषणाएं की हैं। आईए जनाते है कि निर्मला सीतारमण ने किसानों, युवाओं, महिलाओं और छोटे दुकानदारों क्या दिया।

किसानों के लिए बजट में क्या कहा गया?

  • अन्नदाता को ऊर्जादाता बनाने पर काम किया जाएगा।
  • किसानों के उत्पाद से जुड़े कामों में प्राइवेट आंत्रप्रेन्योरपिश को बढ़ावा दिया जाएगा।
  • देश के किसानों के जीवन आसान बनाने के लिए काम किया जाएगा।
  • सरकार कृषि अवसरंचना में निवेश करेगी।
  • किसान की आय दोगुनी करने की हमारी सरकार की कोशिश रहेगी।
  • 10 हजार नए किसान उत्पादक संगठनों का अगले 5 साल में निर्माण किया जाएगा।
  • जीरो बजट खेती पर जोर दिया जाएगा। खेती के बुनियादी तरीकों पर लौटना इसका उद्देश्य है।
  • खाद्यानों, दलहनों, तिलहनों, फलों और सब्जियों की स्व-पर्याप्तता और निर्यात पर विशेष रूप से जोर दिया गया।।

महिला के लिए बजट में क्या कहा गया?

  • सरकार 'नारी तू नारायणी' योजना लॉन्च करेगी। इसके लिए एक कमेटी बनेगी जो देश के विकास और ग्रामीण अर्थव्यवस्था में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने पर सुझाव रखेगी।
  • जनधन बैंक खाता रखने वाली महिलाओं को 5000 रुपये के ओवर ड्राफ्ट की सुविधा मिलेगी।
  • वहीं सेल्फ हेल्प ग्रुप में काम करने वाली किसी एक महिला को मुद्रा स्कीम के तहत एक लाख रुपये का कर्ज भी मिलेगा।

दुकानदारों के लिए बजट में क्या कहा गया?

  • तीन करोड़ खुदरा दुकानदारों को मिलेगी पेंशन
  • तीन करोड़ खुदरा दुकानदारों को पेंशन सुविधा का लाभ मिलेगा।
  • इस सुविधा के लिए बैंक खाते और आधार का इस्तेमाल किया जाएगा।
  • वहीं 1.5 करोड़ के टर्नओवर वालों को भी पेंशन मिलेगी।

युवाओं के लिए बजट में क्या कहा गया?

  • सरकार द्वारा राष्ट्रीय शिक्षा नीति और 400 करोड़ रुपये से विश्व स्तरीय संस्थान बनाए जाएंगे।
  • सरकार ने नेशनल रिसर्च फाउंडेशन बनाने का प्रस्ताव दिया है।
  • उच्च शैक्षणिक संस्थानों के लिए रेग्युलेटरी सिस्टम में और सुधार लाया जाएगा
  • खेलो इंडिया स्कीम के तहत नैशनल स्पोर्ट्स एजुकेशन बोर्ड की शुरुआत होगी।
  • केंद्र सरकार उच्च शिक्षा संस्थानों को 400 करोड़ रुपये की मदद करेगी।
  • विदेशी छात्रों के लिए ‘स्टडी इन इंडिया’ प्रोग्राम की होगी शुरुआत।
  • महात्मा गांधी के मूल्यों से युवाओं को अवगत कराने के लिए ‘गांधीपीडिया’ तैयार होगा
  • नैशनल रिसर्च फाउंडेशन बनाया जाएगा, जिससे रिसर्च को बढ़ावा मिले।
  • टीचिंग गुणवत्ता बढ़ाने के लिए उच्च शिक्षा में ज्ञान स्कीम की शुरुआत

इसे भी पढ़ें: निर्मला सीतारमण ने तोड़ी ‘ब्रीफकेस परंपरा’,  लाल कपड़े में दिखा बहीखाता, जानें कब-कब बदले ब्रीफकेस के रंग

बाजार को पंसद नहीं आया मोदी सरकार का बजट, लाल हुआ शेयर बाजार

बजट में पेट्रोल-डीजल, तंबाकू और सोने पर टैक्स बढ़ाने का ऐलान, जानिए क्या सस्ता और क्या महंगा हुआ

लोकप्रिय