पंजाब: पंचायत चुनाव में कांग्रेस की जीत ने सरकार की नीतियों पर मुहर लगाई- कैप्टन अमरिंदर सिंह

पंजाब पंचायत चुनाव के नतीजे आने के बाद सीएम अमरिंदर सिंह ने कहा कि विरोधी पार्टियों की बिना किसी सकारात्मक एजंडों चलाई नकारात्मक मुहिम का फायदा पंचायती चुनाव में कांग्रेस पार्टी को हुआ और लोकसभा चुनाव में भी पार्टी को लाभ पहुंचेगा।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह ने राज्य के पंचायत चुनावों में कांग्रेस की शानदार जीत का स्वागत किया है। इस जीत को लोकतंत्र की जीत और उनकी सरकार की नीतियों के पक्ष में जनमत होने का स्पष्ट प्रमाण करार देते हुए अमरिंदर सिंह ने मंगलवार को बताया कि रविवार को हुए पंचायत चुनाव में 1.27 करोड़ से ज्यादा मतदाताओं में से 80.38 फीसदी ने अपने मतों का प्रयोग किया।

उन्होंने आगे कहा, “अभी तक 13,175 सरपंच निर्वाचित हुए हैं, जिसमें से 11,241 कांग्रेस के हैं। जबकि शिरोमणि अकाली दल के 981 और बीजेपी के 100 सरपंच ही निर्वाचित हुए हैं। 813 सरपंच अन्य छोटे दलों के और निर्दलीय हैं।” उन्होंने कहा, “आम आदमी पार्टी को एक और करारी हार का सामना करना पड़ा जिससे यह साफ हो गया है कि वह पूर्ण रूप से अप्रासंगिक है और उसका पंजाब में कोई वजूद नहीं है।”

उन्होंने कहा, “कांग्रेस सरकार के खिलाफ विपक्षी दलों द्वारा फैलाए गए झूठे प्रचार को दरकिनार करते हुए मतदाताओं ने बड़ी संख्या में बिना डर के कांग्रेस उम्मीदवारों के समर्थन में अपना वोट दिया। यह दिखाता है कि मतदाताओं का शिरोमणि अकाली दल, बीजेपी और आम आदमी पार्टी सहित अन्य विपक्षी दलों से मोहभंग हो गया है। पंजाब के लोग अब इन पार्टियों द्वारा फैलाए जा रहे दुष्प्रचार से गुमराह होने को तैयार नहीं हैं।” सीएम ने आगे कहा कि विरोधी पार्टियों की बिना किसी सकारात्मक एजंडों चलाई नकारात्मक मुहिम का फायदा पंचायती चुनाव में कांग्रेस पार्टी को हुआ और लोकसभा चुनाव में भी पार्टी को लाभ पहुंचेगा।

पंचायत चुनाव नतीजों को बीजेपी की सहयोगी अकाली दल के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है क्योंकि बादल परिवार ने इन चुनावों में जबरदस्त प्रचार किया था। इसके बावजूद बादल परिवार के करीबी रिश्तेदार उदयवीर सिंह ढिल्लों कांग्रेस के जबरजंग सिंह से बादल गांव में ही सरपंच का चुनाव हार गए। इसके अलावा आम आदमी पार्टी के पंजाब संयोजक सुखपाल सिंह खैरा की भाभई करनबीर कौर भी चुनाव हार गईं।

इसे भी पढ़ें: पंजाब पंचायत चुनावों में कांग्रेस समर्थित उम्मीदवारों ने बजाया प्रचंड जीत का डंका, अकाली दल को लगा करारा झटका

इस दौरान सीएम अमरिंदर सिंह ने रिकॉर्ड मतदान प्रतिशत के साथ शांतिपूर्ण चुनाव सुनिश्चित करने के लिए पंजाब के लोगों को बधाई दी। उन्होंने बताया कि 17,268 बूथ पर मतदान हुआ, उनमें से मात्र 14 पर दोबारा मतदान का आदेश दिया गया है। उन्होंने चुनाव के दौरान विपक्षियों द्वारा संकट पैदा करने के प्रयासों के बावजूद कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए सुरक्षा बलों की सराहना की।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia