लोकतंत्र इमारतों से नहीं, लोगों की आवाज से चलता हैः मल्लिकार्जुन खड़गे

कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट में कहा कि बीजेपी-आरएसएस के शासकों के तीन झूठ अब देश के सामने बेनकाब हो गए हैं- लोकतंत्र, राष्ट्रवाद और बेटी बचाओ। मोदी जी याद रखिए, लोकतंत्र इमारतों से नहीं चलता, जनता की आवाज से चलता है।

मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि लोकतंत्र इमारतों से नहीं, लोगों की आवाज से चलता है
मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि लोकतंत्र इमारतों से नहीं, लोगों की आवाज से चलता है
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने रविवार को नए संसद भवन के उद्घाटन समारोह से देश की राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को दूर रखने और दिल्ली पुलिस द्वारा प्रदर्शनकारी पहलवानों के साथ मारपीट करने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना की। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि लोकतंत्र इमारतों से नहीं बल्कि लोगों से चलता है।

कांग्रेस अध्यक्ष ने अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए लिखा कि नये संसद के उद्घाटन का अधिकार राष्ट्रपति से छीन लिया गया। महिला खिलाड़ियों को सड़कों पर पीटा गया। बीजेपी-आरएसएस के शासकों के तीन झूठ अब देश के सामने बेनकाब हो गए हैं- लोकतंत्र, राष्ट्रवाद और बेटी बचाओ। मोदी जी याद रखिए, लोकतंत्र इमारतों से नहीं चलता, जनता की आवाज से चलता है।


कांग्रेस अध्यक्ष की यह टिप्पणी पीएम मोदी द्वारा रविवार सुबह नए संसद भवन का उद्घाटन करने और ठीक उसी समय जंतर-मंतर से नए संसद भवन की ओर मार्च करने की कोशिश कर रहे प्रदर्शनकारी पहलवानों के साथ दिल्ली पुलिस द्वारा मारपीट और जोर-जबर्दस्ती कर उन्हें हिरासत में लेने पर आई है। इस दौरान दिल्ली पुलिस ने बजरंग पुनिया, साक्षी मलिक, विनेश फोगट और संगीता फोगट समेत कई पहलवानों और उनके समर्थकों को हिरासत में ले लिया।

रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया के प्रमुख बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ यौन उत्पीड़न समेत अनियमितताओं के आरोप में कार्रवाई की मांग को लेकर बजरंग पुनिया, साक्षी मलिक और विनेश फोगट जैसे प्रमुख भारतीय पहलवान 23 अप्रैल से जंतर-मंतर पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। रविवार को पहलवानों ने नए संसद भवन के पास महिला पंचायत करने का ऐलान किया था। इसके लिए जब वे पुलिस बैरिकेड्स को पार कर नये संसद भवन की ओर मार्च करने का प्रयास कर रहे थे तो पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। इसके बाद पुलिस ने धरना स्थल से उनके टेंट भी हटा दिए।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;