इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में फायरिंग-आगजनी मामला: 43 गार्ड्स के खिलाफ FIR दर्ज, कल बवाल में कई छात्र हुए थे घायल

यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्र नेता विवेकानंद पाठक की तहरीर पर आरोपी सिक्योरिटी गार्ड्स के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है। मारपीट और फायरिंग करने के आरोपी सिक्योरिटी गार्ड्स के खिलाफ जानलेवा हमला समेत कई गंभीर धाराओं में केस दर्ज हुआ है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में सोमवार को हुई हिंसा और फायरिंग मामले में एफआईआर दर्ज हुई है। यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्र नेता विवेकानंद पाठक की तहरीर पर आरोपी सिक्योरिटी गार्ड्स के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है। मारपीट और फायरिंग करने के आरोपी सिक्योरिटी गार्ड्स के खिलाफ जानलेवा हमला समेत कई गंभीर धाराओं में केस दर्ज हुआ है।

आज बंद रहेगा इलाहाबाद विश्वविद्यालय

इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के कुलसचिव ने नोटिस जारी कहा कि, विश्वविद्यालय में हिंसा और गंभीर कदाचार की दुर्भाग्यपूर्ण घटनाओं को देखते हुए, जिसमें अज्ञात तत्वों ने विश्वविद्यालय के गेट के ताले तोड़ दिए, जिसके परिणामस्वरूप उनके और गार्डों के बीच हिंसा हुई। पथराव और वाहनों की आगजनी से दहशत की स्थिति पैदा हो गई है, विश्वविद्यालय में 20 दिसंबर, 2022 को काम बंद रहेगा।


स्थिती नियंत्रण में हैं- ADG

वहीं यूपी के ADG कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार ने इस हिंसा को लेकर सोमवार को जानकारी दी कि विश्वविद्यालय में स्थिति अब नियंत्रण में है। पुलिस कमिश्नर प्रयागराज समेत अन्य अधिकारी मौके पर मौजूद हैं। प्रशासन लगातार स्थिति पर नजर रख रही है।

सोमवार को हुआ था बवाल, आगजनी और फायरिंग

गौरतलब है कि सोमवार को इलाहाबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी में एक बार फिर छात्रों और पुलिस के बीच झड़प हो गई, जिसमें कई छात्र घायल हुए हैं। खबरों के मुताबिक, छात्रसंघ बहाली को लेकर प्रदर्शन कर रहे छात्रों को खदेड़ने के लिए यूनिवर्सिटी के सुरक्षा गार्ड में कई राउंड फायरिंग कर दी थी, जिसके बाद हंगामा बढ़ गया। हंगामे की सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची, जिससे प्रदर्शनकारी छात्रों की झड़प हो गई थी।

मिली जानकारी के अनुसार छात्रसंघ बहाली को लेकर छात्रों का प्रदर्शन चल रहा था, इसी दौरान छात्रों और सुरक्षा गार्डों के बीच झड़प हो गई। इसमें पूर्व छात्र विवेकानंद पाठक समेत कई छात्र घायल हो गए थे। देखते ही देखते छात्र उग्र हो गए थे और ईंट-पत्थर चलने लगे थे। छात्रों ने यूनिवर्सिटी कैंपस में तोड़फोड़ के साथ कुछ गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया था। इसके बाद यूनिवर्सिटी के सुरक्षा गार्डों ने छात्रों को रोकने के लिए कई राउंड फायरिंग कर दी थी। जिसके बाद माहौल और खराब हो गया था।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;