विपक्ष की आवाज दबा रही सरकार, आज लोकतंत्र, संविधान और संस्थाएं, सभी खतरे में हैं: खड़गे

कांग्रेस अध्‍यक्ष ने कहा, “आज लोकतंत्र, संविधान और संस्थाएं, सभी खतरे में हैं। विपक्ष की आवाज को दबाने के लिए नये-नये हथकंडे अपनाये जा रहे हैं। केंद्रीय जांच ब्यूरो, प्रवर्तन निदेशालय व आयकर द्वारा छापे मारे जाते हैं। चुनाव आयोग को कमजोर किया जा रहा है।''

फोटो: विपिन
फोटो: विपिन
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने मंगलवार को बीजेपी सरकार पर हमला बोलते हुए उस पर विपक्ष की आवाज दबाने का आरोप लगाया।

कांग्रेस अध्‍यक्ष ने कहा, “आज लोकतंत्र, संविधान और संस्थाएं, सभी खतरे में हैं। विपक्ष की आवाज को दबाने के लिए नये-नये हथकंडे अपनाये जा रहे हैं। केंद्रीय जांच ब्यूरो, प्रवर्तन निदेशालय व आयकर द्वारा छापे मारे जाते हैं। चुनाव आयोग को कमजोर किया जा रहा है।'' 

राहुल गांधी सहित विपक्षी सांसदों के निलंबन के संदर्भ में, कांग्रेस प्रमुख ने कहा, “विपक्षी सांसदों की आवाज को दबाने के प्रयास किए जा रहे हैं।” 

खड़गे ने एक वीडियो संदेश में कहा, “किसी का माइक बंद हो रहा है या किसी के शब्द काटे जा रहे हैं। विशेषाधिकार प्रस्ताव लाए जा रहे हैं।'' 

इस मौके पर उन्होंने जवाहर लाल नेहरू समेत पूर्व प्रधानमंत्रियों के कार्यों पर भी प्रकाश डाला।

उन्होंने ने कहा कि “आजकल कुछ लोग कहते हैं कि भारत की प्रगति पिछले कुछ वर्षों में ही हुई है। खड़गे ने कहा, "उनकी सोच गलत है।" उन्होंने कहा कि एम्स, आईआईटी, आईआईएम और अन्य संस्थान पूर्व प्रधान मंत्री जवाहरलाल नेहरू द्वारा बनाए गए थे।

उन्होंने कहा, ''लोकतंत्र और संविधान हमारे देश की आत्मा हैं। "स्वतंत्रता दिवस के इस अवसर पर हम प्रतिज्ञा लेते हैं कि हम देश की एकता और अखंडता के लिए, प्रेम और भाईचारे के लिए, सद्भाव के लिए लोकतंत्र और संविधान की स्वतंत्रता को बरकरार रखेंगे।"

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;