आर्थिक मंदी पर मनमोहन सिंह का मोदी सरकार पर हमला, कहा- सरकार लापरवाह, महाराष्ट्र पर मंदी की सबसे ज्यादा मार

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने आर्थिक मंदी को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि सरकार आर्थिक मंदी को लेकर बेपरवाह है और इसका सबसे ज्यादा असर महाराष्ट्र पर पड़ा है।

फोटो: @INCIndia
फोटो: @INCIndia
user

नवजीवन डेस्क

अर्थव्यवस्था की बदहाली को लेकर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि आर्थिक मंदी को लेकर केंद्र सरकार बेपरवाह है और उनकी नीतियों की वजह से अर्थव्यवस्था की बदहाली तक पहुंची है। उन्होंने कहा, “मोदी सरकार की नीतियों की वजह से देश की आर्थिक स्थिति की ये हालत हुई है और किसानों को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा, “मैंने वित्तमंत्री निर्मला सीतारमन का एक बयान देखा है, मैं उस पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहूंगा, लेकिन मैं केवल यह बता सकता हूं कि अर्थव्यवस्था को ठीक करने के लिए बीमारियों और उनके कारणों का सही निदान करने की आवश्यकता होगी।”

उन्होंने कहा, “केंद्र और राज्य में एक पार्टी की सरकार वाला मॉडल फेल हो चुका है, जिसका बीजेपी वोट के लिए बहुत चर्चा करती रही है। महाराष्ट्र आर्थ‍िक सुस्ती से सबसे ज्यादा प्रभावित है। राज्य की मैन्युफैक्चरिंग ग्रोथ रेट लगातार चार साल से गिर रही है। महाराष्ट्र की फैक्ट्रियों में भी मंदी का असर दिख रहा है। महाराष्ट्र को गंभीर आर्थिक मंदी के कुछ बुरे प्रभावों का सामना करना पड़ा है। लगातार 4 वर्षों से महाराष्ट्र की विनिर्माण विकास दर घट रही है। पिछले 5 वर्षों में महाराष्ट्र सबसे अधिक फैक्ट्रियों के बंद होने का गवाह रहा है।”

उन्होंने आगे कहा, “निवेशक महाराष्ट्र को छोड़कर अन्य राज्यों में जा रहे हैं। ऑटो सेक्टर बुरी तरह प्रभावित हुआ है। हर तीसरा व्यक्ति बेरोजगार है। किसानों की आत्महत्या के मामले में महाराष्ट्र पहले नंबर पर है। ऐसे में साफ दिखाई दे रही है कि सरकार फेल हो गई है।” उन्होंने आगे कहा कि ये डबल इंजन की सरकार चलाने वाली बीजेपी जिस गवर्नेंस मॉडल पर वोट मांगती है, उसमें वो पूरी तरह फेल रही है।

इस दौरान मनमोहन सिंह ने पीएमसी बैंक घोटाले को लेकर भी चिंता जाहिर की और उन्होंने कहा कि सरकार को इसका समाधान निकालना चाहिए। उन्होंने आगे कहा, “मैं महाराष्ट्र के सीएम, पीएम और वित्त मंत्री से इस मामले पर ध्यान देने की अपील करता हूं। इससे प्रभावित हुए 16 लाख लोगों की शिकायतों का समाधान किया जाना चाहिए।”

पीएमसी बैंक घोटाले मामले में उन्होंने आगे कहा, “मैं भारत सरकार, आरबीआई और महाराष्ट्र सरकार से अपेक्षा करता हूं कि वे एक साथ आकर इस मामले का व्यावहारिक और प्रभावी समाधान ढूंढेगे और खाताधारकों के साथ न्याय होना चाहिए।

फाइव ट्रि‍लियन डॉलर की इकोनॉमी के सरकार के लक्ष्य पर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा, “मैं पहले भी कह चुका हूं कि 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी के लिए 10 से 12 फीसदी ग्रोथ रेट चाहिए हर साल, लेकिन अब हर साल ग्रोथ रेट कम हो रहा है, आईएमएफ ने भी कहा है कि इस साल सिर्फ 6.1 फीसदी बढ़त होगी।”

लोकप्रिय