Results For "Economic Crisis "

देश को सच में बनाना है आत्मनिर्भर तो नीतियों में कई बदलाव जरूरी, सिर्फ भाषण से नहीं चलेगा काम!

विचार

देश को सच में बनाना है आत्मनिर्भर तो नीतियों में कई बदलाव जरूरी, सिर्फ भाषण से नहीं चलेगा काम!

लगभग आधा भारत बिना आय  एक माह से ज्यादा नहीं सर्वाइव कर सकता, सबसे खराब हालत देश के युवाओं की- सर्वे

हालात

लगभग आधा भारत बिना आय एक माह से ज्यादा नहीं सर्वाइव कर सकता, सबसे खराब हालत देश के युवाओं की- सर्वे

अर्थ जगत की 5 बड़ी खबरें: दूसरे विश्व युद्ध के बाद की सबसे बड़ी मंदी आएगी, करोड़ों लोग हो जाएंगे गरीब

अर्थतंत्र

अर्थ जगत की 5 बड़ी खबरें: दूसरे विश्व युद्ध के बाद की सबसे बड़ी मंदी आएगी, करोड़ों लोग हो जाएंगे गरीब

मोदी सरकार के छह साल की असल उपलब्धि, हर अवसर को विकराल समस्या में बदला, लंबे समय तक भुगतेगा देश

विचार

मोदी सरकार के छह साल की असल उपलब्धि, हर अवसर को विकराल समस्या में बदला, लंबे समय तक भुगतेगा देश

सबसे अमीर मंदिर तिरुपति बालाजी पर भी आया आर्थिक संकट, लॉकडाउन के चलते हजारों कर्मचारियों के वेतन पर संकट

हालात

सबसे अमीर मंदिर तिरुपति बालाजी पर भी आया आर्थिक संकट, लॉकडाउन के चलते हजारों कर्मचारियों के वेतन पर संकट

जिस पंचवर्षीय योजना को मोदी सरकार ने कर दिया खत्म, आज कोरोना संकट से उबारने के लिए उसी की सबसे ज्यादा जरूरत

विचार

जिस पंचवर्षीय योजना को मोदी सरकार ने कर दिया खत्म, आज कोरोना संकट से उबारने के लिए उसी की सबसे ज्यादा जरूरत

एमपी, यूपी के बाद गुजरात ने भी किया मजदूरों के अधिकारों पर वार,  8 पार्टियों ने राष्ट्रपति को लिखा पत्र

हालात

एमपी, यूपी के बाद गुजरात ने भी किया मजदूरों के अधिकारों पर वार, 8 पार्टियों ने राष्ट्रपति को लिखा पत्र

वीडियो: आर्थिक अनिश्चतता का माहौल-  लॉकडाउन में बैंकों पर भरोसा घटा, लोगों ने जमा की नकदी  video story

वीडियो

वीडियो: आर्थिक अनिश्चतता का माहौल- लॉकडाउन में बैंकों पर भरोसा घटा, लोगों ने जमा की नकदी  

कोरोना संकट से सर्विस सेक्टर हो चुका है धराशायी, इंडेक्स 49.3 से गिरकर 5.4 पर पहुंचा

हालात

कोरोना संकट से सर्विस सेक्टर हो चुका है धराशायी, इंडेक्स 49.3 से गिरकर 5.4 पर पहुंचा

राहुल गांधी-अभिजीत बनर्जी संवाद: मांग बढ़ाने के लिए लोगों के हाथ में दिया जाए पैसा तभी पटरी पर आएगी अर्थव्यवस्था

हालात

राहुल गांधी-अभिजीत बनर्जी संवाद: मांग बढ़ाने के लिए लोगों के हाथ में दिया जाए पैसा तभी पटरी पर आएगी अर्थव्यवस्था