नूंह हिंसा: गुरुग्राम में स्थिति सामान्य, स्कूल और कॉलेज खुले, सोहना में शैक्षणिक संस्थान अगले आदेश तक बंद रहेंगे

हरियाणा के मेवात-नूंह में सोमवार को हुई हिंसा के बाद अब गुरुग्राम में स्थिति सामान्य हो रही है। बुधवार को यहां बाजार खोेले गए। वहीं, स्कूल और कॉलेज भी शुरू हो गए हैं।

गुरुग्राम में पांच एफआईआर दर्ज की गई हैं और कई मामले दर्ज किए जा रहे हैं।
गुरुग्राम में पांच एफआईआर दर्ज की गई हैं और कई मामले दर्ज किए जा रहे हैं।
user

नवजीवन डेस्क

हरियाणा के मेवात-नूंह में सोमवार को हुई हिंसा के बाद अब गुरुग्राम में स्थिति सामान्य हो रही है। बुधवार को यहां बाजार खोेले गए। वहीं, स्कूल और कॉलेज भी शुरू हो गए हैं। पुलिस के अनुसार अब गुरुग्राम में स्थिति नियंत्रण में है। एसीपी (अपराध) वरुण दहिया ने कहा, "जिले में स्कूल, कॉलेज और कार्यालय सामान्य रूप से काम कर रहे हैं। यहां तक कि इंटरनेट सेवाएं भी चालू हैं।" उन्होंने मीडिया को बताया, पिछले दो दिनों में 15 FIR दर्ज की गई हैं। 31 जुलाई को हुई घटना के बाद ऐसी घटनाओं में काफी कमी आई है। हम हॉटस्पॉट और संवेदनशील इलाकों पर कड़ी नजर रख रहे हैं... अब तक 8 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और 30 लोगों के खिलाफ प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की गई है। गुरुग्राम के सेक्टर 57 स्थित अंजुमन मस्जिद में भीड़ ने इकट्ठा होकर इस घटना को अंजाम दिया जिसमें 2 लोग घायल हुए थे और एक की मौके पर ही मौत हो गई, दूसरे व्यक्ति की हालत स्थिर है।

उन्होंने लोगों से सोशल मीडिया पर अफवाहों से दूर रहने की अपील की। अधिकारियों के अनुसार, जहां गुरुग्राम में स्कूल और कॉलेज फिर से खुल गए, वहीं सोहना में शैक्षणिक संस्थान अगले आदेश तक बंद रहेंगे।

गुरुग्राम में पांच एफआईआर दर्ज की गई हैं और कई मामले दर्ज किए जा रहे हैं। सेक्टर-57 में मस्जिद जलाने के मामले में पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार किया है।  सोमवार को हुई झड़पों के बाद मंगलवार को गुरुग्राम की कई कंपनियों ने अपने कर्मचारियों को घर से काम करने और जल्दी घर लौटने के लिए कहा। वहीं,मारुति सुजुकी, हीरो मोटोकॉर्प, होंडा, नेस्ले, कोक, पेप्सी, भारती एयरटेल सहित कई बड़ी कॉर्पोरेट कंपनियां और कारखाने कानून-व्यवस्था की स्थिति पर बारीकी से नजर रख रहे हैं।

नूंह हिंसा: गुरुग्राम में स्थिति सामान्य, स्कूल और कॉलेज खुले, सोहना में शैक्षणिक संस्थान अगले आदेश तक बंद रहेंगे

सोहना में प्रशासन और दोनों समुदायों की शांति बैठक के बाद, क्षेत्र में बुधवार को बाजार खोल दिया गया। हालांकि, बैठक में मौजूद लोगों ने दावा किया कि सोमवार को सोहना में हुई झड़प में 18 से 22 साल के युवा शामिल थे। गुरुग्राम के उपायुक्त निशांत कुमार यादव ने कहा, “सोहना और गुरुग्राम में स्थिति सामान्य हो गई है और शांति समिति की मांग पर जिला प्रशासन ने सोहना में बाजार खोलने की अनुमति दे दी है।”

"प्रशासन ने दोनों समुदायों के 20-20 सदस्यों की एक समिति बनाई है। समिति शांति और सद्भाव कायम करने में मदद करेगी। समिति के सदस्य हर रोज सोहना की स्थिति के बारे में जिला प्रशासन को जानकारी देंगे।"

हालांकि, सोहना क्षेत्र में इंटरनेट सेवाएं अभी भी अगले आदेश तक निलंबित हैं। इसके अलावा नूंह जिले में भारी फोर्स तैनात होने के बाद हालात सामान्य हैं। नूंह में पुलिस बल की 14 कंपनियां नियमित गश्त कर रही हैं और स्थिति पर नजर रख रही हैं।


पुलिस ने दंगों के सिलसिले में 116 लोगों को गिरफ्तार किया है और नूंह के विभिन्न पुलिस स्टेशनों में 26 एफआईआर दर्ज की हैं। नूंह में हुई झड़प में 60 लोग घायल हो गए। नूंह, गुरुग्राम, फरीदाबाद, पलवल और झज्जर जिलों में अभी भी धारा 144 लगी हुई है।

नूंह में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए जिला प्रशासन की ओर से क्षेत्रवार 10 ड्यूटी मजिस्ट्रेट और छह स्पेशल ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किए गए हैं।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;