पुलवामा हमला: पाकिस्तान को सख्त चेतावनी, सीसीएस की बैठक आज, अहम फैसलों की संभावना

पुलवामा हमले को लेकर भारत ने पाकिस्तान को सख्त चेतावनी दी है। इस बीच हमले की जांच के लिए एनआईए की टीम आज पुलवामा पहुंचेगी। उधर दिल्ली में सीसीएस की बैठक होने वाली है जिसमें कुछ अहम फैसले होने की संभावना है।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

पुलवामा में हुए आतंकी हमलों की जांच के लिए नेशनल इंवेस्टिगेटिंग एजेंसी – एनआईए की 12 सदस्यीय टीम आज श्रीनगर पहुंचेगी। साथ ही गृहमंत्री राजनाथ सिंह, गृह सचिव राजीव गौबा और जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल भी श्रीनगर पहुंचेंगे। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोवाल के भी श्रीनगर जाने की संभावना है। इस बीच सरकार ने आज ही सुबह करीब सवा नौ बजे सुरक्षा मामलों की कैबिनेट कमेटी यानी सीसीएस की बैठक भी बुलाई है।

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में गुरुवार को बड़ा आतंकी हमला हुआ। इस हमले में 44 जवान शहीद हो गए। हमले के बाद कल ही कैबिनेट की तीन बैठकें हुई थीं। और आज इस मामले पर पीएमओ में सुरक्षा मामलों की कैबिनेट कमिटी सीसीएस की बैठक होगी। यह बैठक सुबह सवा नौ बजे के आसपास होगी।

हादसे की जांच के लिए एनआईए की 12 सदस्यीय टीम भी पुलवामा पहुंच रही है। इस टीम का नेतृत्व आईजी रैंक के अधिकारी करेंगे।

पाकिस्तान को सख्त चेतावनी

भारत ने आतंकी हमले के लिए जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी अजहर मसूद को जिम्मेदार बताते हुए पाकिस्तान को सख्त संदेश दिया है। भारत ने पाकिस्तान को आतंकी गतिविधियों को समर्थन न देने के साथ ही उसकी सरजमीं पर चल रहे आतंकी कैंपों को खत्म करने को कहा है।

विदेश मंत्रालय ने सभी देशों से आतंक के खिलाफ एकजुट होकर लड़ने को कहा है। विदेश मंत्रालय ने कहा कि वह सभी देशों से अपील करता है कि भारत की प्रस्तावित आतंकी सूची का समर्थन करे। भारत ने कहा कि जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की प्रतिबंधित अंतरराष्ट्रीय आतंकी सूची में डालने के साथ ही पाकिस्तान की जमीन से चल रहे आतंकी कैंपों पर प्रतिबंध लगाया जाए।

इस बीच अमेरिका ने पुलवामा हमले की कड़ी निंदा की है।

संयुक्त राष्ट्र ने की हमले की निंदा

पुलवामा हमले को लेकर संयुक्त राष्ट्र की भी प्रतिक्रिया आई है। संयुक्त राष्ट्र की ओर से कहा गया, 'हम जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आज हुए हमले की निंदा करते हैं। हमारी संवेदनाएं भारत सरकार और जिन लोगों की जान गई उनके परिजनों के साथ हैं। हम उम्मीद करते हैं कि घायल हुए लोग जल्द स्वस्थ होंगे और हमले के लिए दोषी लोगों का जल्द से जल्द पता चले।'

जम्मू-कश्मीर में 1989 में आतंकवाद के सिर उठाने के बाद से हुए अब तक के सबसे बड़े आतंकी हमले में एक आत्मघाती हमलवार ने गुरुवार को पुलवामा जिले में श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर अपनी विस्फोटकों से लदी गाड़ी को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की बस से टकरा दिया, जिससे हुए जबरदस्त विस्फोट में बस के परखच्चे उड़ गए। इस हमले में कम से कम 44 जवानों के शहीद होने की खबर है।

पाकिस्तानी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने इस आतंकी हमले की जिम्मेदारी ली है और आत्मघाती हमलावर का एक वीडियो जारी किया है, जिसे हमले से पहले रिकॉर्ड किया गया था। हमलावर की पहचान कमांडर आदिल अहमद दार के रूप में हुई है। यह हमला श्रीनगर से करीब 30 किलोमीटर दूर लेथपोरा इलाके में हुआ।

हमले के बारे में पुलिस सूत्रों का कहना है कि एसयूवी चला रहे आत्मघाती हमलावर ने दोपहर करीब सवा तीन बजे अपनी गाड़ी से सीआरपीएफ की बस में टक्कर मारी, जिससे बहरा कर देने वाला विस्फोट हुआ। घटना उस वक्त की है, जब 78 वाहनों के काफिले में 2,547 सीआरपीएफ जवान जम्मू के ट्रांजिट शिविर से श्रीनगर की ओर जा रहे थे। जम्मू-कश्मीर पुलिस इस हमले को आत्मघाती बताया है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय