शाहजहांपुर केस: छात्रा से तेल मालिश कराते स्‍वामी चिन्‍मयानंद का वीडियो वायरल, जानें सच्चाई?

लॉ की छात्रा से यौन शोषण के आरोपों से घिरे पूर्व केंद्रीय मंत्री स्‍वामी चिन्‍मयानंद की मुश्‍किलें और बढ़ गई हैं। छात्रा से तेल मालिश कराते उनका वीडियो वायरल हो रहा है। बता दें कि वीडियो 31 जनवरी 2014 को 9 से 11 बजे के बीच रिकॉर्ड किया गया है, जो वीडियो पर अंकित है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

बीजेपी नेता और पूर्व गृह राज्‍य मंत्री स्‍वामी चिन्‍मयानंद की दिन प्रतिदिन मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। हाल ही में उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर के एक लॉ कॉलेज की छात्रा ने प्रेस कांफ्रेंस करके कहा था कि स्वामी चिन्मयानंद ने उसका एक साल तक रेप किया है। उसने दावा किया था कि उसके पास स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ सबूत है और उसके पास वीडियो भी मौजूद है जो साबित करने के लिए काफी है कि चिन्मयानंद ने उनका यौन शोषण किया है। अब सोशल मीडिया पर एक वीडियो और उसकी तस्वीरें वायरल हो रही है कि जिसमें एक उम्रदराज शख्स एक छात्रा से नंगे होकर मसाज करवा रहा है। ऐसा दावा किया जा रहा है कि तस्वीरों में दिख रहे व्‍यक्ति स्‍वामी चिन्‍मयानंद ही हैं और मसाज करने वाली लड़की पीड़िता है। हालांकि नवजवीन इस वायरल तस्वीरों की सत्यता की पुष्टि नहीं करता है।

वायरल वीडियो और तस्वीरों में स्वामी चिन्मयानंद दिखाई दे रहे हैं और छात्रा उनकी मसाज कर रही है। बताया जा रहा है कि स्वामी का यह वीडियो खुफिया कैमरे की मदद से 31 जनवरी 2014 को बनाया गया। लेकिन बातचीत में 23 मई तक चुनाव आचार संहिता का जिक्र सामने आया है। जिससे यह साबित होता है कि यह वीडियो 2019 का ही है। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर इस मामले की जांच यूपी सरकार की ओर से गठित एसआईटी कर रही है।

इससे पहले स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ सबूतों की बात करते हुए पीड़िता ने कहा था कि मेरे पास पर्याप्त सबूत हैं और समय आने पर वीडियो क्लिप सहित सभी सबूत पेश किए जाएंगे। पीड़ित छात्रा ने कहा था कि उसने अपनी और अपने परिवार की सुरक्षा के लिए ही अपना वह वीडियो वायरल किया था, जिसमें उसने चिन्मयानंद से जान का खतरा बताया था।

इसे भी पढ़ें: चिन्मयानंद केस: योगी सरकार में इंसाफ के बदले मिलती है धमकी, पीड़िता का छलका दर्द, ‘ बीजेपी नेता किया मेरा रेप

बता दें कि स्वामी चिन्मयानंद पर रेप का आरोप लगाने के बाद पीड़िता अचानक गायब हो गई थी। बाद में पुलिस ने उसे राजस्थान से बरामद किया था और सुप्रीम कोर्ट में पेश किया गया था। सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले को स्वत: संज्ञान लेते हुए सुनवाई की थी।

गौरतलब है कि 23 अगस्त को पीड़िता ने एक वीडियो के जरिए स्वामी चिन्मयानंद पर गंभीर आरोप लगाए थे और कहा था कि स्वामी ने कई लड़कियों की जिदंगी बर्बाद की है। पीड़िता ने कहा था कि चिन्मयानंद कहता है कि कोई मेरा कुछ नहीं कर सकता है। मेरे पास सारे एविडेंस हैं। मेरी रिक्वेस्ट है कि आप मुझे इंसाफ दिलाइए।

इसे भी पढ़ें: छात्रा से यौन उत्पीड़न मामला: बीजेपी नेता चिन्मयानंद के उड़े होश! SIT के हाथ लगी रहस्यमय ‘पेन-ड्राइव’

Published: 11 Sep 2019, 2:29 PM
लोकप्रिय