नवजीवन बुलेटिन: करगिल युद्ध के 20 साल पूरे, आज ही के दिन भारतीय जवानों ने पाक के छुड़ाए थे छक्के, देखिए 4 बड़ी खबर

करगिल विजय दिवस को आज 20 साल पूरे हो गए हैं। 26 जुलाई 1999 को कारगिल युद्ध में भारत को विजय मिलीथी, जिसके बाद हर साल 26 जुलाई को विजय दिवस मनाया जाता है। देखिए इस वक्त की 4 बड़ी खबरें।

user

नवजीवन डेस्क

करगिल विजय दिवस को आज 20 साल पूरे हो गए हैं। 26 जुलाई 1999 को कारगिल युद्ध में भारत को विजय मिली थी, जिसके बाद हर साल 26 जुलाई को विजय दिवस मनाया जाता है। करगिल विजय दिवस के मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सशस्त्र बलों की वीरता का स्मरण करते हुए युद्ध में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि दी है। वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट कर वीर सपूतों के नमन किया।

कर्नाटक विधानसभा की सदस्यता खोने वाले तीन बागी विधायक राहत पाने की आस में आज सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटा सकते हैं। स्पीकर के आर रमेश कुमार ने गुरुवार को तीन विधायों को दल-बदल कानून के तहत अयोग्य ठरा दिया था। इनमें कांग्रेस को दो बागी विधायकों रमेश जारकिहोली और महेश कुमातहल्ली का नाम शामिल है। कर्नाटक प्रजाकीय जनता पार्टी के विधायक आर शंकर को अयोग्य घोषित कर दिया गया है। तीनों विधायकों को नई संभावित बीजेपी सरकार में मंत्री बनाए जाने की अटकलें लगाई जा रही थी। लेकिन उन्हें संविधान की 10वीं अनुसूची के तहत 23 मई, 2023 तक विधासनभा के अयोग्य घोषित कर दिया गया है। उसी दिन कर्नाटक विधानसभा का मौजूदा कार्यकाल खत्म होगा। यानी, अब वे विधानसभा के उपचुनाव भी नहीं लड़ पाएंगे।

जेडीयू ने बीजेपी को एकबार फिर झटका दिया है। दरअसल लोकसभा में तीन तलाक बिल पर जेडीयू ने बीजेपी का विरोघ किया। एनडीए के सहयोगी बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी ने गुरुवार को लोकसभा में मोदी सरकार के महत्वाकांक्षी तीन तलाक बिल का विरोध कर सदन से वॉकआउट किया। जेडीयू ने कहा कि यह बिल समाज के एक तबके के मन में अविश्वास पैदा करेगा। बिल पर चर्चा के दौरान जेडीयू सांसद राजीव रंजन सिंह ने कहा ‘हम इस बिल का समर्थन नहीं करेंगे क्योंकि हमारी पार्टी का मानना है कि अगर यह बिल लोकसभा में पास होता है तो यह समाज के तबके में अविश्वास और खास तरह की भावना पैदा करेगा।’

ईरान ने जुलाई के शुरू में पकड़े गए पोत 'एमटी रिआह' पर सवार 12 भारतीयों में से 9 को रिहा कर दिया है। सरकारी सूत्रों ने गुरुवार को यह जानकारी दी। बहरहाल, 21 भारतीय अब भी ईरान की हिरासत में हैं, जिनमें एमटी ‘रिआह’ के 3 और ब्रिटेन के तेल टैंकर ‘स्टेना इम्पेरो’ पर सवार 18 भारतीय शामिल हैं। ईरान ने पिछले हफ्ते होर्मुज के जलडमरूमध्य से ‘स्टेना इम्पेरो’ को जब्त कर लिया था। इसके अलावा ‘ग्रेस-1’ नाम के टैंकर के चालक दल के 24 भारतीय सदस्य जिब्राल्टर पुलिस की हिरासत में हैं। जिब्राल्टर ने यूरोपीय संघ के प्रतिबंधों का उल्लंघन करने के आरोप में ईरान के ‘ग्रेस-1’ को जब्त कर लिया था।

लोकप्रिय
next