नवजीवन बुलेटिन: इकॉनमी-कोरोना से मौतों पर राहुल का PM पर वार और मलाप्पुरम में कोविड-19 समीक्षा बैठक में लिया हिस्सा

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने अर्थव्यवस्था के गोता लगाने और देश में कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति को लेकर मोदी सरकार पर एक बार फिर हमला बोला है और राहुल गांधी ने वायनाड के मलाप्पुरम में कोविड-19 की हालात की समीक्षा के लिए आयोजित बैठक में हिस्सा लिया।

user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने अर्थव्यवस्था के गोता लगाने और देश में कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति को लेकर मोदी सरकार पर एक बार फिर हमला बोला है। राहुल गांधी ने भारत और उसके पड़ोसी देशों समेत कई एशियाई देशों में 2020 में जीडीपी ग्रोथ रेट और प्रति 10 लाख आबादी पर कोरोना से मरने वालों की संख्या की तुलना करने वाले एक ग्राफ को शेयर करते हुए ट्वीट किया कि देखिए इकॉनमी को किस तरह पूरी तरह बर्बाद किया जाता है और तेजी से अधिकतम लोगों को संक्रमित किया जाता है। राहुल ने जिन देशों के आंकड़े शेयर किए हैं, उनमें भारत की जीडीपी सबसे ज्यादा गिरी है। वही भारत प्रति 10 लाख आबादी पर कोरोना से मौत भी भारत में सबसे ज्यादा हुई है। भारत समेत 11 एशियाई देशों में 2020 के दौरान जीडीपी ग्रोथ और प्रति 10 लाख आबादी पर कोरोना से मौत के आंकड़ों का तुलनात्मक ग्राफ शेयर करते हुए राहुल गांधी ने लिखा, 'इकॉनमी को पूरी तरह बर्बाद कैसे करें और तेजी से अधिकतम संख्या में लोगों को संक्रमित कैसे करें।'

कांग्रेस नेता राहुल गांधी तीन दिन के वायनाड दौरे पर सोमवार को पहुंचे। सोमवार को उन्होंने मलाप्पुरम में कोविड-19 की हालात की समीक्षा के लिए आयोजित बैठक में हिस्सा लिया, जहां पर कोरोना वायरस से संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी देखी गई है। बता दें, मलाप्पुरम में गत तीन दिनों में राज्य में सबसे अधिक मामले सामने आए हैं। समीक्षा बैठक के बाद राहुल गांधी ने नवनिर्मित मकान की चाबी दो बहनों काव्या और कृतिका को दी जिनके माता-पिता का निधन पिछले साल मलाप्पुरम में भूस्खलन की चपेट में आने से हो गया था। गौरतलब है कि पिछले साल अगस्त में भारी बारिश की वजह से केरल और वायनाड जिले में भूस्खलन की दो बड़ी घटनाएं हुए थीं।

दिल्ली में प्रदूषण के मुद्दे पर सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा, “मैं केंद्रीय पर्यावरण मंत्री की इस बात से सहमत नहीं हूं कि प्रदूषण एक दिन में ठीक नहीं हो सकता, इसके लिए कम से कम चार साल लगेंगे। अगर हम सारी सरकारें, सारी पार्टियां मिलकर राजनीति छोड़ के ईमानदारी के साथ लगे तो चार साल से काफी कम समय में प्रदूषण पर काबू पा सकते है।” सीएम केजरीवाल ने आगे कहा, “मेरा मानना है कि पराली से उत्पन्न होने वाले प्रदूषण को काफी कम समय में नियंत्रित किया जा सकता है, इसके लिए हमारे वैज्ञानिकों और इंजीनियरों ने समाधान दिए हैं। केवल राजनीतिक इच्छाशक्ति की कमी नजर आ रही है।” दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने मिलकर प्रदूषण के खिलाफ युद्ध छेड़ने का आह्वान किया।

भारत-चीन के बीच LAC पर जारी तनाव के बीच सुरक्षा बलों ने लद्दाख के चुमार-डेमचोक इलाके में एक चीनी सैनिक को पकड़ा है। उसने कहा कि उसने अनजाने में भारतीय क्षेत्र में प्रवेश किया होगा। फिलहाल चीनी सैनिक का आईकार्ड जब्त किया गया है, कुछ और दस्तावेज भी बरामद किए गए हैं। सैनिक का कहना है कि वो अपने याक की तलाश में भारतीय सीमा में घुस आया था। खुफिया एजेंसियों ने उससे पूछताछ की। सूत्रों का कहना है कि नियत प्रक्रिया का पालन करने के बाद स्थापित प्रोटोकॉल के अनुसार उसे चीनी सेना को वापस कर दिया जाएगा। PLA के इस सैनिक की पहचान कॉर्पोरल वांग या लांग के रूप में हुई है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia