गाजा में फिलीस्तीनियों की मौत का आंकड़ा 28 हजार के करीब, बीते 24 घंटों में 107 और लोगों ने गंवाई जान

मंत्रालय ने कहा कि इजरायली बलों ने पिछले 24 घंटों में 107 फिलिस्तीनियों को मार डाला और 142 अन्य को घायल कर दिया। मंत्रालय ने कहा कि भारी बमबारी और नागरिक सुरक्षा और एम्बुलेंस कर्मचारियों की कमी के बीच कुछ मृतक मलबे के नीचे हैं।

गाजा में फिलीस्तीनियों की मौत का आंकड़ा 28 हजार के करीब
गाजा में फिलीस्तीनियों की मौत का आंकड़ा 28 हजार के करीब
user

नवजीवन डेस्क

गाजा में इजरायली सेना का अभियान जारी है। इस अभियान में मरनेवालों की संख्या भी लगातार बढ़ती जा रही है। हमास द्वारा संचालित स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि गाजा पट्टी में चल रहे इजरायली हमलों में मरने वाले फिलीस्तीनियों की संख्या बढ़कर 27,947 हो गई है।

समाचार एजेंसी श‍िन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, मंत्रालय ने शुक्रवार को एक प्रेस बयान में कहा कि पिछले साल अक्टूबर में इजरायल-हमास संघर्ष शुरू होने के बाद से तटीय इलाके में 67,459 फिलिस्तीनी घायल हुए हैं।

मंत्रालय ने कहा कि इजरायली बलों ने पिछले 24 घंटों में 107 फिलिस्तीनियों को मार डाला और 142 अन्य को घायल कर दिया। मंत्रालय ने कहा कि भारी बमबारी और नागरिक सुरक्षा और एम्बुलेंस कर्मचारियों की कमी के बीच कुछ मृतक मलबे के नीचे हैं।


फ़िलिस्तीनी सुरक्षा सूत्रों और प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि इज़रायली विमानों ने अल-रिमल, अल-सबरा, अल-ज़ायतून, ताल अल-हवा और शेख अजलिन सहित गाजा शहर के पड़ोस में कई घरों को निशाना बनाकर बमबारी की।

सूत्रों ने श‍िन्हुआ को बताया कि इजरायल की बमबारी के कारण एम्बुलेंस लक्षित स्थानों तक पहुंचने में असमर्थ हैं।

इस बीच, चिकित्सा सूत्रों ने बताया कि गाजा के सबसे दक्षिणी शहर राफा में दो घरों को निशाना बनाकर किए गए हमले में कम से कम आठ फिलिस्तीनी मारे गए। पैरामेडिक्स के अनुसार, दक्षिणी गाजा के सबसे बड़े शहर खान यूनिस में, इजरायल की बमबारी के परिणामस्वरूप कई युवा मारे गए।

इसके अलावा, मध्य गाजा के दीर अल-बलाह शहर में एक घर पर इजरायली विमानों द्वारा बमबारी के परिणामस्वरूप कई फिलिस्तीनी मारे गए और कुछ अन्य घायल हो गए।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;