अयोध्या केस: फैसले की अंतिम घड़ी, रामलला की नगरी में आला अधिकारियों का लगा जमवाड़ा, चप्पे-चप्पे की निगरानी

एक और अयोध्या मामले की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में पूरी होने वाली है और दूसरी ओर यूपी के वरिष्ठ अधिकारियों का जमवाड़ा शहर में अभी से लगने लगा है। खबरों के मुताबिक, सभी वरिष्ठ अधिकारी सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

अयोध्या मामले की सुनवाई के लिए सुप्रीम कोर्ट में अंतिम घड़ी आ गई है। ऐसे में ज़िला प्रशासन ने अयोध्या में एहतियात के तौर पर अगले दो महीने तक शहर में धारा 144 लगा दी। शहर के हर तरफ पुलिस और पैरा मिलिट्री के जवान मुस्तैद हैं। इस बीच आज यूपी के उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ अधिकारियों ने सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने के लिए अयोध्या का दौरा किया। साथ ही वे 26 अक्टूबर को होने वाले ‘दीपोत्सव’ की तैयारियों का भी जायजा लिया।

खबरों के मुताबिक, उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव आरके तिवारी, पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह और अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) अवनीश अवस्थी स्थानीय अधिकारियों के साथ अयोध्या में कई बैठकें करेंगे। ऐसे माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में ये सभी अधिकारी यही मौजूद रहेंगे।

सरकार के प्रवक्ता के अनुसार, अधिकारी ‘दीपोत्सव’ के लिए सुरक्षा व्यवस्था का मुआयना करेंगे और सुप्रीम कोर्ट के अगले महीने राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद मामले में फैसला सुनाए जाने की संभावना के मद्देनजर किसी अनहोनी को रोकने के लिए एहतियात के तौर पर उठाए जा रहे कदमों का भी जायजा लेंगे। इसे देखते हुए अयोध्या दौरे पर आ रहे अधिकारीगण 'दीपोत्सव' और 'छठ पूजा सहित अन्य त्योहारों के दौरान तीर्थयात्रियों की आवाजाही और गतिविधियों के संबंध में चर्चा करेंगे।

इसे भी पढ़ें: अयोध्या में बढ़ाई गई चौकसी, दो महीने के लिए धारा 144 लागू, अतिरिक्त सुरक्षा बल बुलाए गए

अयोध्या केस: विवादित जमीन की सुनवाई आखिरी दौर में, सीजेआई बोले- कल 40वां और सुनवाई का आखिरी दिन

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

Published: 15 Oct 2019, 8:44 PM
लोकप्रिय