मुन्ना बजरंगी की हत्या पर अखिलेश ने सीएम योगी को घेरा, कहा, ऐसी अराजकता राज्य में कभी नहीं देखा

उत्तर प्रदेश की बिगड़ी कानून व्यवस्था को लेकर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने योगी सरकार को कठघरे में खड़ा करते हुए कहा है कि प्रदेश में चारों तरफ भय का माहौल है। प्रदेश ने ऐसा कुशासन और अराजकता का दौर पहले कभी नहीं देखा।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

बागपत जिले की जेल में माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या को लेकर पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, “आज यूपी में न तो कानून बचा है न व्यवस्था। हर तरफ दहशत का वातावरण है। अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हो गए हैं कि वे जेल तक में हत्याएं कर रहे हैं। ये सरकार की विफलता है। प्रदेश की जनता इस भय के माहौल में बहुत डरी-सहमी है। प्रदेश ने ऐसा कुशासन और अराजकता का दौर पहले कभी नहीं देखा।”

कांग्रेस ने भी मुन्ना बजरंगी की हत्या के बाद योगी सरकार पर निशाना साधा। कांग्रेस ने कहा कि बीजेपी सरकार में जेल में कोई इंसान सुरक्षित नहीं है तो आम आदमी कैसे सुरक्षित महसूस कर सकता हैं।

वहीं इस हत्या के बाद यूपी सरकार ने बागपत जिला जेल के जेलर, डिप्टी जेलर सहित चार कर्मचारियों को निलंबित कर दिया है और न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं।

मुन्ना बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह ने अपने पति की हत्या के लिए केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा पर साजिश रचने का आरोप लगाया है। इसके अलावा सीमा सिंह ने सोमवार को पूर्व सांसद धनंजय सिंह और पूर्व विधायक कृष्णानंद राय की पत्नी अलका सिंह पर भी इस हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया था।

इसे भी पढ़ें: यूपीः मुन्ना बजरंगी हत्याकांड में आया नया मोड़, पत्नी ने केंद्रीय मंत्री सहित प्रशासन पर लगाए आरोप

सोमवार को यूपी के माफिया डॉन प्रेम प्रकाश सिंह उर्फ मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। पूर्व बीएसपी विधायक लोकेश दीक्षित से रंगदारी मांगने के आरोप में बागपत कोर्ट में मुन्ना बजरंगी की पेशी होनी थी।

इसे भी पढ़ें: क्या सुनील राठी को किसी हाई प्रोफाइल शख्स ने दी थी मुन्ना बजरंगी की हत्या की सुपारी!

जब मुन्ना बजरंगी का नाम सुनते ही सिट्टी-पिट्टी गुम हो गई थी योगी के मंत्री की

5वीं पास मुन्ना बजरंगी ऐसे बना माफिया डॉन, जुर्म की दुनिया में कदम रखने से लेकर गिरफ्तारी तक की पूरी कहानी

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 10 Jul 2018, 11:59 AM
;